ताज़ा खबर
 

कमलेश तिवारी मर्डर केस: फरार हत्यारों का वीडियो आया सामने, शाहजहांपुर में CCTV कैमरे में हुए कैद

Kamlesh Tiwari Murder Case: कहा जा रहा है कि 18 अक्टूबर को कमलेश तिवारी की हत्या के बाद से यह दोनों उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में ही छिपे हुए थे। हालांकि दोनों आरोपियों के नेपाल भागने की अटकलें भी लगाई जा रही हैं।

Author Published on: October 21, 2019 4:31 PM
ऐसी आशंका है कि यह दोनों यूपी के शाहजहांपुर में छिपे हुए थे। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

Kamlesh Tiwari Murder Case: कमलेश तिवारी हत्याकांड के 2 मुख्य आरोपी मोइनुद्दीन और शेख अशफाक अहमद की तलाश पुलिस जोर-शोर से कर रही है। इस बीच इन दोनों आरोपियों की एक CCTV फुटेज के सामने आने से हड़कंप मच गया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सीसीटीवी फुटेज शाहजहांपुर का है। सीसीटीवी के वीडियो में नजर आ रहा है कि दोनों सड़क पर घूम रहे हैं। इस वीडियो को देखने से ऐसा लगता है कि यह वीडियो रात के वक्त का है। वीडियो में दोनों आरोपी तेज कदमों से चलते हुए नजर आ रहे हैं।

दोनों आरोपियों के कंधे पर एक बैग भी नजर आ रहा है। कहा जा रहा है कि 18 अक्टूबर को कमलेश तिवारी की हत्या के बाद से यह दोनों उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में ही छिपे हुए थे। हालांकि दोनों आरोपियों के नेपाल भागने की अटकलें भी लगाई जा रही हैं। बहरहाल अभी इस सीसीटीवी फुटेज के बारे में कुछ भी पुख्ता तौर से नहीं कहा जा सकता है।

बताया जा रहा है कि यह दोनों आरोपी किराए पर गाड़ी लेकर यहां आए थे और फिर उन्होंने अपनी गाड़ी शाहजहांपुर रोडवेज बस अड्डे पर छोड़ दिया। इसके बाद दोनों पैदल ही रेलवे स्टेशन की तरफ चले गए।

यह फुटेज उसी समय का है। इधर ‘आज तक’ ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि कमलेश तिवारी की हत्या से पहले मोइनुद्दीन और शेख अशफाक अहमद जिस होटल में रुके थे वहां से घबराहट कम करने और ताकत बढ़ाने की दवाइयां मिली हैं। जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि मर्डर करने से पहले इन दोनों ने यह दवाएं ली थीं।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कमलेश तिवारी का गला रेतने के दौरान इनमें से एक आरोपी के हाथ पर भी चाकू लग गया था। चाकू लगने की वजह से इस आरोपी का काफी खून भी बहा था। हत्या के बाद जब आरोपी अपने होटल के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए थे तब उस वक्त भी एक आरोपी ने अपना एक हाथ कुर्ते की जेब में डाल रखा था।

आपको बता दें कि इस बीच यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने हत्‍या के आरोपी फरीद उर्फ मोइनुद्दीन और अशफाक खान पठान पर ढाई-ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित क‍िया है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Kamlesh Tiwari Murder: हत्या से पहले आरोपियों ने कानपुर से खरीदा था सिम और फोन, मददगार गिरफ्तार
2 Delhi: एक महीने की पड़ताल, 4 हजार लोगों से पूछताछ और पकड़े गए गैंगरेप के आरोपी
3 Kamlesh Tiwari के हत्यारों पर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित, महाराष्ट्र-गुजरात से नेपाल तक छापेमारी