ताज़ा खबर
 

Kamlesh Tiwari Murder: जबड़े से लेकर छाती तक 15 बार गोदा, डिलीवरी ब्वॉय और मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव थे हत्यारे

34 साल का अशफाकुद्दीन जाकिरहुसैन शेख एक मेडिकल मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर काम करता था जबकि 27 साल का मोइनुद्दीन खुर्शीद पठान फूड डिलीवरी ब्वॉय के तौर पर काम करता था।

Author Updated: October 24, 2019 9:17 AM
दोनों आरोपियों को गुजरात एटीएस ने पकड़ा है। फोटो सोर्स – ANI

Kamlesh Tiwari murder case: हिन्दुओं के बड़े नेता कमलेश तिवारी की लखनऊ में 18 अक्टूबर को हुई हत्या के आरोप में धरे गए 2 मुख्य आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन को लेकर अब कई खुलासे हो रहे हैं। कुछ मीडिया संस्थानों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि बीते रविवार को कमलेश तिवारी को 15 बार चाकू से गोदा गया। चाकू से सभी वार जबड़े से लेकर छाती तक किये गये हैं। 15 बार चाकू से गोदने के बाद कमलेश तिवारी का बेरहमी से गला रेता गया और इसके बाद उन्हें गोली मारी गई। यह भी बताया जा रहा है कि कमलेश तिवारी के सिर के पिछले हिस्से में 32 बोर की एक गोली फंसी हुई थी।

बता दें कि हत्या में शामिल होने के शक में शेख अशफाक और मोइनुद्दीन पठान को गुजरात-राजस्थान बॉर्डर से पकड़ने के बाद गुजरात ATS ने कई बड़े खुलासा किये हैं। एटीएस की तरफ से एक प्रेस नोट जारी किया गया है। प्रेस नोट के मुताबिक 34 साल का अशफाकुद्दीन जाकिरहुसैन शेख एक मेडिकल मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर काम करता था जबकि 27 साल का मोइनुद्दीन खुर्शीद पठान फूड डिलीवरी ब्वॉय के तौर पर काम करता था।

अशफाक शेख ने अपने एक साथी रोहित सोलंकी के नाम से अपना फेसबुक पेज भी बनाया था। ‘NDTV’ के मुताबिक रोहित सोलंकी ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि वो मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव के तौर पर काम करते हैं। कंपनी में अशफाक शेख उनका सीनियर था। जब वो एरिया मैनेजर थे तब उन्होंने अपने आधार कार्ड की एक फोटो कॉपी उसे दी थी ताकि कंपनी की सारी प्रक्रियाओं को पूरा किया जा सके।

उन्होंने कहा कि ‘अब मुझे पता चला है कि उसने मेरे आधार कार्ड का इस्तेमाल फर्जीगिरी करने के लिए किया। अशफाक ने मेरे आधार कार्ड से फोटो हटाकर अपना फोटो लगाया…उसने जन्मतिथि भी बदल दी और साथ ही साथ मेरा नाम और आधार कार्ड पर दी गई अन्य जानकारियों को भी बदला।’ सोलंकी ने मीडिया वालों को यह भी बताया कि उन्हें अशफाक के व्यवहार या उसके बातचीत को लेकर कभी भी उसपर शक नहीं हुआ।

बहरहाल दोनों कमलेश तिवारी हत्याकांड में दोनों आरोपियों के पकड़े जाने के बाद यह कहा जा रहा है कि कमलेश तिवारी के विवादास्पद बयानों से गुस्सा कर इन दोनों ने उनकी हत्या की है। हालांकि अभी इस मामले की सभी परतें खुलनी बाकी हैं। इधर कमलेश तिवारी के परिवार वालों ने दोनों आरोपियों के पकड़े जाने के बाद प्रशासन की कार्रवाई पर संतोष जताया है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Bihar: अब मोतिहारी के गर्ल्स शेल्टर होम से भागीं 4 लड़कियां, इनमें एक प्रेग्नेंट
2 कॉल करके कहा- 100 रुपए भेजो तो हो जाएगी KYC, 4 लोगों से ठग लिए 22 लाख
3 Delhi: नशे का आदी था 10वीं का स्कूल टॉपर, मां ने विरोध जताया तो लोहे की मूसली से कूचकर मार डाला