ताज़ा खबर
 

पुलवामा: विस्फोटकों से लदी कार का मालिक निकला हिज्बुल आतंकी, शोपियां का वाशिंदा है हिदायतुल्लाह मलिक

पिछले कुछ महीनों में जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने हिज्बुल के कई नामी आतंकियों को मुठभेड़ में मार गिराया है। मोस्ट वांटेड रियाज नायकू को भी सुरक्षा बलों ने इसी महीने एनकाउंटर में मार गिराया था।

CRIME, CRIME NEWS, INDIA LOCKDOWNशोपियां का रहने वाला हिदायतुल्लाह मलिक हिज्बुल का आतंकी है।

जम्मू कश्मीर में ‘पुलवामा अटैक पार्ट-2’ की साजिश नाकाम करने के बाद अब यहां पुलिस ने अहम खुलासे किये हैं। पुलिस ने बताया है कि जिस गाड़ी में विस्फोटक रखे गए थे उस कार का मालिक हिदायतुल्लाह मलिक है। हिदायतुल्लाह मलिक शोपियां का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि हिदायतुल्लाह ने पिछले साल आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ज्वायन किया था। शुक्रवार (29-05-2020) को पुलिस ने हिदायतुल्लाह की पहचान की।

आपको बता दें कि पुलवामा में एक सैंट्रो कार में 40-45 किलोग्राम Improvised Explosive Device मिले थे। इस कार के जरिए पुलवामा में सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की गहरी साजिश रची गई थी। हालांकि वक्त रहते यहां सुरक्षा बलों ने विस्फोटक लदी कार की पहचान कर ली थी और कार समेत विस्फोटक को धमाका कर नष्ट कर दिया गया था। हालांकि कार का ड्राइवर पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया था। यह भी पता चला था कि कार पर जो नंबर लिखा था वो फर्जी था।

अब तक जो जानकारी सामने आई है उसके आधार पर कहा जा रहा है कि विस्फोटकों से लदी इस इस कार को हिज्बुल मुजाहिद्दीन का एक आतंकी चला रहा था जो कि शुरुआती गोलीबारी के बाद ही भाग गया। इस केस को अब NIA को सौंपा जा रहा है।

इस गाड़ी को पुलवामा के रजपुरा रोड के पास शादीपुरा में पकड़ा गया था। पुलवामा पुलिस के बाद सीआरपीएफ और आर्मी ने भी इस ऑपरेशन में हिस्सा लिया था और बम निरोधक दस्ते को बुलाकर विस्फोटक नष्ट किये गये थे।

वरिष्ठ पुलिस अफसरों को शक है कि आतंकी संगठन के निशाने पर सीआरपीएफ के 400 जवान थे। गुरुवार को सीआरपीएफ की 20 गाड़ियों का काफिला श्रीनगर से जम्मू पहुंचा था। आशंका है कि यहीं काफिला आतंकियों के निशाने पर था।

पिछले कुछ महीनों में जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने हिज्बुल के कई नामी आतंकियों को मुठभेड़ में मार गिराया है। मोस्ट वांटेड रियाज नायकू को भी सुरक्षा बलों ने इसी महीने एनकाउंटर में मार गिराया था।

आपको बता दें कि पिछले साल 14 फरवरी को पुलवामा में विस्फोटकों से लदी SUV सुरक्षा बलों की गाड़ी से टकरा गई थी। यह हमला जैश-ए-मुहम्मद ने प्लान किया था जिसमें केंद्रीय सुरक्षा बल के 40 जवान शहीद हो गए थे। बाद में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मुहम्मद के आतंकी कैंपों पर भारी बमबारी भी की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पश्चिम बंगाल से धरा गया जमात-उल मुजाहिद्दीन का वांटेड आतंकी अब्दुल करीम, 2018 में चकमा देकर हुआ था फरार
2 हमलोग जानवर हैं क्या?..पानी चाहिए खाना चाहिए’, यूपी के Covid-19 हॉस्पिटल में व्यवस्था से नाराज मरीजों का वीडियो वायरल
3 Lockdown4.0: BJP सांसद गौतम गंभीर के पिता की SUV पर चोरों ने किया हाथ साफ, तफ्तीश शुरू