ताज़ा खबर
 

जम्मू कश्मीर: लश्कर के 4 सहयोगी गिरफ्तार! ट्रेनिंग के दौरान पुलिस चौकी पर फेंका था ग्रेनेड, साथियों को शरण और सामान भी मुहैया कराते थे

पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक यह चारो इलाके में लश्कर-ए-तैयबा के सक्रिय आतंकवादियों को साजो सामान और ठिकाना मुहैया कराने में लिप्त थे।

crime, crime newsइन चारों से फिलहाल पूछताछ कर विशेष जानकारी जुटाई जा रही है। फोटो क्रेडिट – नरेंद्र कुमार

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े और जम्मू कश्मीर के बारामूला जिले के सोपार क्षेत्र में एक पुलिस चौकी पर ग्रेनेड हमले में शामिल चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह जानकारी पुलिस ने बुधवार को दी। पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि गिरफ्तार किये गए व्यक्तियों की पहचान इरफान अहमद मीर, इरफान अहमद खान, कैसर रहमान खान और सुहैल अहमद गनी के तौर पर हुई है।

उन्होंने कहा, ‘‘जांच के दौरान इसका खुलासा हुआ कि वे पुटखा पुलिस चौकी पर एक ग्रेनेड फेंकने में लिप्त थे।’’ प्रवक्ता ने कहा कि ग्रेनेड फेंकने का काम उन्हें लश्कर-ए-तैयबा के एक सक्रिय आतंकवादी फयाज अहमद वार उर्फ उमर और एक विदेशी आतंकवादी ने सौंपा था जिसका कोड नाम उस्मान है। इन्हें ग्रेनेड फेंकने का काम आतंकवादी बनने की परीक्षा के तौर पर दिया गया था।

उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस रिकार्ड के अनुसार वे क्षेत्र में लश्कर-ए-तैयबा के सक्रिय आतंकवादियों को साजो सामान और ठिकाना मुहैया कराने में लिप्त थे। वे साथ ही अन्य गैरकानूनी गतिविधियों में भी लिप्त थे। यह भी पता चला कि वे सोशल मीडिया के जरिये सक्रिय आतंकवादियों के साथ सम्पर्क में थे।’’

कश्मीर पुलिस के मुताबिक, सोपोर पुलिस, 52 राष्ट्रीय राइफल्स और सीआरपीएफ ने एक साथ सोपोर के दो इलाकों में सर्च ऑपरेशन चलाया था। इस दौरान लश्कर आतंकियों के सहयोगी पकड़े गए। पुलिस को सूचना मिली थी कि, आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में उनके मददगार सहायता कर रहे हैं। आतंकियों को शरण भी दे रहे हैं। जिसके बाद यह ऑपरेशन चलाया गया था।


आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों से जम्मू कश्मीर में आतंकियों की शामत आई हुई है। सेना और पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन में यहां कई बड़े आतंकी संगठनों के आतंकियों ढेर किया जा चुका है। इसमें हिज्बुल और लश्कर के शीर्ष आतंकी तक शामिल हैं। इसके अलावा इसी महीने की 12 तारीख को शोपियां के खोजपुरा इलाके से लश्कर के एक आतंकी को जिंदा भी पकड़ा गया था।

पता चला था कि गिरफ्तारी आतंकवादी का नाम ज़ाकिर खान है। उस वक्त यह भी बताया जा रहा था कि ज़ाकिर खान मूल रूप से शोपियां का ही रहने वाला है और इसके पिता का नाम मोहम्मद युसूफ खान है।

Next Stories
1 Lockdown के दौरान ऑनलाइन क्लासरूम में घुस गए अजनबी, लड़कियों को रेप और हत्या की धमकी देकर लिखने लगे गंदी बातें; पेरेन्ट्स के उड़े होश
2 गुजरात: बैंक में घुस महिला कर्मचारी को पुलिस वाले ने मारा थप्पड़, वीडियो वायरल होने पर वित्त मंत्री ने ट्वीट कर कलेक्टर को दिये कार्रवाई के निर्देश
3 4000 करोड़ के पोंजी घोटाले में आरोपी पूर्व IAS अफसर बी एम विजय शंकर की घर में मिली लाश, मुकदमा चलाने की तैयारी में थी CBI
ये पढ़ा क्या?
X