बॉलीवुड फिल्म में भी काम कर चुकी हैं पहली बार में UPSC की परीक्षा पास करने वाली IPS सिमाला प्रसाद

सिमाला ने फिल्म अलिफ में शम्मी का रोल निभाया था। इस फिल्म में मदरसे से स्कूल तक की कहानी को दर्शाया गया था। ये फिल्म तालीम की अहमियत को बताती है, जिसे लोगों ने खूब सराहा था।

IPS Simala Prasad
सिमाला के पिता डॉक्टर भागीरथ प्रसाद भी आईपीएस अधिकारी रहे हैं। (फोटो- Instagram/@simalaprasad)

आईपीएस अधिकारी सिमाला प्रसाद युवाओं के लिए प्रेरणा हैं। वह साल 2010 बैच की अधिकारी हैं और नक्सली क्षेत्र में अपने बेखौफ अंदाज में ड्यूटी करने के लिए जानी जाती हैं।

उनके पिता डॉक्टर भागीरथ प्रसाद भी आईएएस अधिकारी रहे हैं। इसके बाद वह राजनीति में आए और सांसद बने। उनकी मां मेहरुन्न‍िसा परवेज जानी-मानी साहित्यकार हैं। उन्हें पद्मश्री से नवाजा जा चुका है।

सिमाला का जन्म 8 अक्टूबर 1980 को मध्य प्रदेश के भोपाल में हुआ था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा सेंट जोसफ कोएड स्‍कूल में हुई। इसके बाद उन्होंने स्‍टूडेंट फॉर एक्‍सीलेंस से बीकॉम किया और फिर भोपाल के बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी से सोशियोलॉजी में पीजी किया। वह गोल्ड मेडलिस्ट भी रही हैं। उन्होंने सेल्फ स्टडी से ही आईपीएस अधिकारी बनने तक का सफर तय किया और कोई कोचिंग नहीं ली।

PSC एग्जाम पास करने के बाद उन्हें पहली पोस्ट‍िंग डीएसपी के तौर पर मिली थी, इसी दौरान उन्होंने यूपीएससी की तैयारी की और फिर आईपीएस अधिकारी बनीं। सिमाला काफी टैलेंटेड हैं और यही वजह है कि वह बॉलीवुड की फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं।

सिमाला ने फिल्म अलिफ में शम्मी का रोल निभाया था। इस फिल्म में मदरसे से स्कूल तक की कहानी को दर्शाया गया था। ये फिल्म तालीम की अहमियत को बताती है, जिसे लोगों ने खूब सराहा था।

उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि दिल्ली में फिल्म निदेशक जैगाम से उनकी मुलाकात हुई थी। वो अपनी फिल्म अलिफ के लिए किरदार तलाश रहे थे। जिसमें उन्होंने मुझे चांस दिया।

ये फिल्म नवंबर 2016 में ऑस्ट्रेलिया में इंडियन इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ क्वींसलैंड में बतौर वर्ल्ड प्रीमियर प्रदर्शित हुई और फरवरी 2017 में रिलीज हुई थी।

सिमाला को कविताएं लिखने का भी शौक है और वह सोशल मीडिया पर इन्हें पोस्ट करती हैं। उनकी कविता ‘मैं खाकी हूं’ काफी पसंद की गई थी और लोगों ने इसे खूब शेयर किया था।

सिमाला का कहना है कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह सिविल सर्विस में जाएंगी लेकिन घर के माहौल ने उनके भीतर ये चाहत जगाई और वह देश सेवा के लिए इस परीक्षा की तैयारी में लग गईं।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट