ताज़ा खबर
 

ग्राम पंचायत सचिव के ठिकानों पर छापा, 2 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त

भदौरिया ने बताया कि छापों में दुबे के घर से 4.15 लाख रुपये की नकदी, डेढ़ किलोग्राम चांदी और 15 तोला सोने के जेवरात बरामद किये गये हैं। ग्राम पंचायत सचिव के खिलाफ जारी जांच के घेरे में आयी अचल सम्पत्तियों में दो बड़े मकान, पांच दुकानें और 20 बीघा जमीन शामिल है।

इंदौर | November 22, 2019 2:55 PM
लोकायुक्त पुलिस के उपाधीक्षक (डीएसपी) संतोष सिंह भदौरिया

मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में लोकायुक्त पुलिस ने भ्रष्टाचार के संदेह में शुक्रवार को एक ग्राम पंचायत के सचिव के ठिकानों पर छापे मारे। जांचकर्ताओं को छापों में उसकी दो करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य की बेहिसाब संपत्ति के सुराग मिले हैं। लोकायुक्त पुलिस के उपाधीक्षक (डीएसपी) संतोष सिंह भदौरिया ने बताया कि इंदौर से करीब 30 किलोमीटर दूर अत्याना गांव की पंचायत के सचिव योगेश दुबे के खिलाफ शिकायत मिली थी कि उन्होंने भ्रष्ट तरीकों से खासी संपत्ति अर्जित की है। इस शिकायत पर अत्याना में दुबे के घर तथा उनके एक अन्य मकान पर छापे मारे गये।

उन्होंने बताया कि दुबे वर्ष 1997 में प्रदेश के पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग की सेवा में शामिल हुए थे। लोकायुक्त पुलिस को छापों में सुराग मिले हैं कि ग्राम पंचायत सचिव की चल-अचल संपत्ति का मूल्य दो करोड़ रुपये से ज्यादा है। यह राशि गुजरे 22 साल की सरकारी सेवा में उनकी वैध आय से कई गुना अधिक है।

भदौरिया ने बताया कि छापों में दुबे के घर से 4.15 लाख रुपये की नकदी, डेढ़ किलोग्राम चांदी और 15 तोला सोने के जेवरात बरामद किये गये हैं। ग्राम पंचायत सचिव के खिलाफ जारी जांच के घेरे में आयी अचल सम्पत्तियों में दो बड़े मकान, पांच दुकानें और 20 बीघा जमीन शामिल है। उन्होंने बताया कि दुबे और उनके परिजन के बैंक खातों में 12.75 लाख रुपये जमा पाये गये हैं। मामले में भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत विस्तृत जांच और ग्राम पंचायत सचिव की बेहिसाब संपत्ति का मूल्यांकन जारी है।

Next Stories
1 संबंध बनाने के दौरान हो गई मौत, सूटकेस में रख लाश को लगा दिया ठिकाना
2 UP: घर में घुसे बदमाशों ने खुद को बताया पुलिस, जमकर की लूटपाट; फिर फायरिंग करते हुए हो गए फरार
3 CBI अधिकारी बन लोगों को ठगता था, 24 लाख रुपए के साथ धरा गया बदमाश
ये  पढ़ा क्या?
X