ताज़ा खबर
 

सेहमत खान: एक बेटी, एक बीवी और एक जासूस, पाकिस्तानी अधिकारी से शादी रचा खुफिया जानकारी जुटा कईयों की बचाई जान

पाकिस्तान के एक बड़े अधिकारी से शादी करने के बाद सेहमत खान खुफिया तरीके से भारतीय आर्मी को पाकिस्तानी सेना की बहुत सी गोपनीय और अहम जानकारियां देती थीं।

crime, crime newsसांकेतिक तस्वीर। फोटो सोर्स – एक्सप्रेस अर्काइव

जासूसी का काम हमेशा ही जोखिम भरा होता है। आज की इस कड़ी में हम आपको एक ऐसी महिला भारतीय जासूस के बारे में बताएंगे जिनकी दिलेरी ने सबको हैरान कर दिया। आज हम बात कर रहे हैं महिला जासूस सेहमत खान की। साल 2018 में आई फिल्म राज़ी में बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री आलिया भट्ट ने इसी महिला जासूस की भूमिका निभाई थी। यह सभी जानते हैं कि साल 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान भारतीय सेना ने दुश्मनों के दांत खट्टे कर दिये थे। लेकिन इस युद्ध से पहले इंडियन आर्मी को एक ऐसे जासूस की जरुरत थी जो पाकिस्तान में रह कर उनकी खुफिया जानकारी देश को दे सके।

इस काम के लिए एक भारतीय-कश्मीरी लड़की सेहमत खान का चयन किया गया जो पाकिस्तान में अंडरकवर हो गई थी। सेहमत खान ने पाकिस्तान में किस तरह बहादुरी दिखा उनकी कई नापाक साजिशों को नाकाम किया यह हम आपको आगे बताएंगे पहले यह जान लीजिए की सेहमत खान ने जासूसी के बारे में कभी सोचा भी नहीं था।

जासूसी में नहीं थी दिलचस्पी

जी हां, कश्मीर की रहने वाली एक युवा लड़की सेहमत खान जब कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी तब उस दौरान उनके पिता उन्हें जासूस बनने के लिए कहते थे लेकिन सेहमत खान को जासूसी में ज्यादा दिलचस्पी नहीं थी। हालांकि बाद में सेहमत खान अपने पिता का दिल रखने और वतन की सेवा का करने की भावना लिये जासूसी के लिए तैयार हो जाती हैं।

पाकिस्तानी अधिकारी से की शादी

बताया जाता है कि भारतीय नेवी के एक रिटायर्ड अफसर जब आर्मी पर रिसर्च कर रहे थे तब इसी दौरान उनकी मुलाकात सेना के एक अफसर से हुई। जिसने उन्हें एक ऐसी कश्मीरी लड़की के बारे में बताया जो कि पाकिस्तान में जाती है और वहां के एक आर्मी ऑफिसर से शादी करती है और वहां रहकर भारत को ख़ुफ़िया जानकारी भेजती है।

पाकिस्तान के एक बड़े अधिकारी से शादी करने के बाद सेहमत खान खुफिया तरीके से भारतीय आर्मी को पाकिस्तानी सेना की बहुत सी गोपनीय और अहम जानकारियां देती थीं। उनके सबसे बड़े योगदान में से एक यह था कि पाकिस्तान भारतीय नौसेना के एक सेंटौर श्रेणी के विमान आईएनएस विराट को डुबोने की योजना बना रहा था।

उनके साहस और बहादुरी के कारण, भारतीय सेना पाक रेंजर्स से एक कदम आगे थी और इस संकट को समय रहते रोका गया था। इसके अलावा भी सेहमत खान ने पाकिस्तान के कई अहम भेद देश को भेजे जिसकी वजह से खतरों को समय रहते टाल दिया गया। यह भी कहा जाता है कि बाद में जब वह वापस भारत लौटी तो वह अपने पाकिस्तानी पति के एक बच्चे के साथ गर्भवती थी और उस लड़के ने रक्षा बल में सेवा दी है।

Next Stories
1 तवायफ बन महिला जासूस ने कई सैनिकों का किया कत्ल, अजीजुन बाई की ‘मस्तानी टोली’ के किस्से हैं मशहूर
2 BJP के मिथुन: बेटे पर रेप और गर्भपात का आरोप, पत्नी भी आरोपी; अभिनेता पर भी लगे संगीन इल्जाम
3 बाटला हाउस एनकाउंटर: दिल्ली की अदालत में आरिज खान दोषी करार, मुठभेड़ के बाद भाग गया था आतंकी; 15 मार्च को सजा का ऐलान
ये पढ़ा क्या?
X