ताज़ा खबर
 

गुजरात: ‘श्रमिक स्पेशल’ रद्द किये जाने पर मजदूरों का बवाल, कई वाहनों में तोड़फोड़; SP, कई पुलिसकर्मी और पत्रकार घायल

India Lockdown. Migrant Workers Ransack Vehicles After 'Shramik Special' Trains Cancel: तस्वीरों में नजर आ रहा है कि मजदूर हाथों में पत्थऱ और ईंटें लेकर पुलिस वालों औऱ वाहनों पर हमला कर रहे हैं। कई वाहनों के शीशे टूटे हुए नजर आ रहे हैं।

कई मजदूरों के हाथ में लाठी-डंडे भी नजर आ रहे हैं। फोटो सोर्स – ANI

India Lockdown. Migrant Workers Ransack Vehicles After ‘Shramik Special’ Trains Cancel: गुजरात में प्रवासियों मजदूरों ने रविवार (17-05-2020) को जमकर हंगामा मचाया। दरअसल यहां ‘श्रमिक स्पेशल’ ट्रेन रद्द किये जाने के बाद मजदूरों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। राजकोट में सड़क पर उतरकर मजदूरों ने जमकर बवाल मचाया। सैक़ड़ों की संख्या में सड़कों पर उतरे मजदूरों ने कई वाहनों के शीशे तोड़ दिये और पुलिसकर्मियों पर भी भारी पथराव किया।

बताया जा रहा है कि यहां 2 ‘श्रमिक स्पेशल’ ट्रेनें कैंसिल कर दी गई थी। जिसके बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के मजदूरों का गुस्सा फूटा। मजदूरों के गुस्से को शांत कराने पहुंची पुलिस को भी इनकी नाराजगी का शिकार बनना पड़ा। भारी पथराव में जिले के पुलिस अधीक्षक जख्मी हो गए।

इसके अलावा कई अन्य पुलिसकर्मी और पत्रकार भी इस हंगामे के दौरान घायल हुए हैं। शापर इंडस्ट्रियल इलाके में हुए इस बवाल की तस्वीरें भी सामने आई हैं। तस्वीरों में नजर आ रहा है कि मजदूर हाथों में पत्थऱ और ईंटे लेकर पुलिस वालों औऱ वाहनों पर हमला कर रहे हैं। कई वाहनों के शीशे टूटे हुए नजर आ रहे हैं।

इस दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग की भी धज्जियां उड़ती हुई नजर आ रही हैं। मजदूरों की इस भीड़ में कई लोगों ने चेहरे पर मास्क भी नहीं लगाया था। इस बवाल के बाद अब यहां एसपी (Rural), बलराम मीणा की तरफ से कहा गया है कि हंगामा कर रहे लोगों की पहचान कर उनपर कार्रवाई की जाएगी।

बताया जाता है कि 500 से अधिक मजदूर अपने गृह राज्य जाने के लिए निकले थे। जब ये निर्धारित स्थान पर पहुंचे तो परिवहन के किसी भी साधन की व्यवस्था नहीं थी। जिसके बाद मजदूरों का धैर्य जवाब दे गया और वे हंगामा करने लगे। शापर-वेरावल हाईवे पर मजदूरों के इस प्रदर्शन को शांत कराने में पुलिसकर्मियों के पसीने छूट गए। काफी देर तक पुलिस के द्वारा समझाने के बाद यहां मजदूर शांत हुए।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए घोषित लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए रेल मंत्रालय की तरफ से ‘श्रमिक स्पेशल’ ट्रेनें चलाई गई हैं। अब तक लाखों मजदूरों को इन ट्रेनों को जरिए उनके घर तक पहुंचाया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 लखनऊ: तालाब किनारे धड़ और जमीन में दफन सिर! लॉकडाउन में मिली लाश तो प्रशासनिक महकमे में हड़कंप
2 फल की रेहड़ी के पास खड़ा था बच्चा, पुलिस ने बरसा दी लाठियां; वीडियो शेयर कर अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ को घेरा
3 जम्मू कश्मीर: लॉकडाउन के बीच जारी है आतंक नाशक ऑपरेशन! डोडा में हिज्बुल आतंकी ढेर, एक जवान शहीद