ताज़ा खबर
 

झारखंड: चोरी के आरोपी में भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला, 1 की हालत गंभीर; 3 गिरफ्तार

India Lockdown, Mob Lynching in Jharkhand: एक युवक दुलार मिर्धा ने भीड़ से बचकर भागने की कोशिश भी की। लेकिन गांव वालों ने उसे दौड़ा कर पकड़ लिया और उसे जमीन पर गिरा कर उसकी भी बेरहमी से पिटाई की।

पिटाई से एक युवक की मौत हो गई जबकि दूसरे युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। सांकेतिक तस्वीर।

India Lockdown, Mob Lynching in Jharkhand: देश में जारी लॉकडाउन के बीच अब झारखंड में भी मॉब लिंचिंग की भयानक घटना हुई है। दुमका जिले में भीड़ ने चोरी के आरोप में 2 युवकों को बुरी तरह से पीटा। भीड़ ने एक युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी जबकि एक अन्य युवक की हालत अभी गंभीर बताई जा रही है। दुमका के पुलिस अधीक्षक अंबर लकरा ने इस मामले में जानकारी देते हुए कहा कि ‘एक युवक की मौत हो गई है जबकि दूसरे युवक को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में अब तक 3 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। मृतक युवक की पहचान 40 साल के सुभन मियां के तौर पर हुई जबकि जख्मी युवक की पहचान दुलार मिर्धा के तौर पर हुई है।’

घटना के बारे में मिली विस्तृत जानकारी के मुताबिक यह घटना दुमका के काटीकुंड इलाके में हुई है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि गांव वालों ने इन दोनों युवकों को बकरी चोरी करते हुए रंगेहाथ धर लिया जिसके बाद इनकी बुरी तरीके से पिटाई की गई।

अहले सुबह यह दोनों बकरी चुराने की कोशिश कर रहे थे लेकिन उसी वक्त कुछ गांव वालों ने उन्हें ऐसा करते हुए देख लिया। जिसके बाद पुलिस को वहां बुलाने के बजाए गांव के लोग वहां जमा हो गए और उन्होंने लाठी-डंडे से इनकी पिटाई शुरू कर दी।

काफी देर तक इनकी पिटाई किये जाने की वजह से एक युवक की मौत हो गई। इस दौरान मिर्धा ने भीड़ से बचकर भागने की कोशिश भी की। लेकिन गांव वालों ने उसे दौड़ा कर पकड़ लिया और उसे जमीन पर गिरा कर उसकी भी बेरहमी से पिटाई की।

इधऱ भीड़ द्वारा युवक की पिटाई किये जाने की खबर सामने आने के बाद स्थानीय पुलिस-प्रशासन के कान खड़े हो गए। काटीकुंड पुलिस थाने के इंचार्ज तनवीर आलम ने बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।

यह भी जानकारी मिली है कि जब सुभन मियां की लाश को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया था तब वहां पीड़ित के परिवार के सदस्यों औऱ हमलावरों के बीच झड़प शुरू हो गई। पुलिस ने किसी तरह बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया।

आपको याद दिला दें कि पिछले ही महीने महाराष्ट्र के पालघर से भी एक ऐसी ही घटना सामने आई थी। यहां 2 साधुओं समेत 3 लोगों की भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। भीड़ ने बच्चा चोरी के शक में इनकी पिटाई की थी।

Next Stories
1 आधी रात सूनी सड़कों पर सिर पर भारी बक्सा ले गांव लौट रही थीं मजदूर, पत्रकार ने की बात तो छलक आए आंसू; कहा- रोड पर मरेंगे थोड़ी न…
2 यूपी: फोन पर बात कर रही थी पत्नी, खाना नहीं मिला तो पति ने कुल्हाड़ी से काट डाला
3 मुंबई: बीजेपी MLA ने वीडियो शेयर कर बताया, अस्पताल में ‘बॉडी बैग्स’ के बीच चल रहा इलाज! बोली शिवसेना- किसी को बदनाम करने की जरुरत नहीं
ये पढ़ा क्या?
X