ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन में शिक्षा मंत्री के पीए ने की मछली पार्टी, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, अधिकारियों समेत 25 के खिलाफ FIR

Coronavoirus, Fish Party in Lockdown: शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि 'मुझे इस मामले में कुछ जानकारी नहीं है।'

crime, crime news, india lockdownपार्टी के बाद पत्तलों को जला दिये जाने का दावा किया गया है। मंत्री के पीए ने मीडिया करने से मना कर दिया। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

Coronavoirus, Fish Party in Lockdown: कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन किया गया है। लेकिन बिहार के जहानाबाद में लॉकडाउन और सोशल डिस्टेन्सिंग की धज्जियां उड़ाने की तस्वीरें कुछ ही दिनों पहले सामने आई थीं। जिसके बाद अब उसपर कार्रवाई भी हुई है। दरअसल राज्य के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के निजी सहायक पिंटू यादव ने जहानाबाद में मछली पार्टी का आयोजन किया था। इस पार्टी में सोशल डिस्टेन्सिंग की धज्जियां उड़ा दी गई थीं।

‘ABP न्यूज’ के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान की गई इस पार्टी में 100 से ज्यादा लोग वहां जमा हुए थे। इस पार्टी में कई अधिकारी और गांव के लोग शामिल थे। मछली बनाने के लिए बाकायदा रसोइया बुलाया गया था। पार्टी में फोटो या वीडियो लेने पर रोक लगाई गई थी। यह भी दावा किया गया है कि पार्टी के बाद सबूत मिटाने के लिए खाने के बाद पत्तलों को जलाया गया था।

मीडिया में यह रिपोर्ट आने के बाद राज्य के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने इस मामले की जांच कराने की बात कही थी। डीजीपी ने राज्य के एसपी से इस मामले में रिपोर्ट मांगी थी। जांच के बाद अब इस मामले में मंत्री के पीए पिंटू यादव, डीएसपी प्रभात भूषण, मगदूमपुर के सीओ राजीव रंजन और बीडीओ अनिल मिस्त्री समेत 25 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। इसमें आपदा एक्ट के तहत धारा भी लगाई गई है।


वहीं इस मामले में पिंटू यादव ने मीडिया से बातचीत करने से इनकार कर दिया था। हालांकि शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि ‘मुझे इस मामले में कुछ जानकारी नहीं है।

प्रखंड के कुछ अधिकारी तथा जिले के कुछ अधिकारी जिले में घूम-घूम कर राहत का वितरण कर रहे हैं। यह लोग मेरे गांव भी गए थे, वहां भी उन्होंने राहत सामग्री का वितरण किया।

इसलिए गांव के लोगों ने उन्हें खिलाने का प्रस्ताव दिया था। इसमें सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन हुआ या नहीं इसकी जानकारी मुझे नहीं है।’ आपको बता दें कि यह 15 अप्रैल को हुई थी और पार्टी के खिलाफ टेहटा ओपी में मामला दर्ज है।

Next Stories
1 मध्यप्रदेश: शराब की बोतलें पकड़कर मुस्कुरा रहे थे, तस्वीर वायरल होते ही 3 राजस्व अधिकारी हुए सस्पेंड
2 गुरुग्राम: पत्नी की हत्या कर शव को बेड में छिपा दिया, लॉकडाउन के बीच फरार हुआ पति
3 कोरोना लॉकडाउन में कर्नाटक के मंत्री के सामने जुटी भीड़, मध्‍य प्रदेश, झारखंड में फेंके गए नोट से हड़कंप
ये पढ़ा क्या?
X