ताज़ा खबर
 

गर्भवती रिजवाना खातुन को हो रही थी ब्लीडिंग, हॉस्पिटल में फर्श पर खून गिरा तो चप्पलों से पीटा, जबरन साफ करवाया

India Lockdown: रिजवाना खातून के मुताबिक अस्पताल के कर्मचारी ने उन्हें चप्पल से पीटा। उनके धर्म को लेकर उन्हें भला-बुरा कहा गया है और यह भी कहा गया कि वो कोरोना वायरस फैला रही हैं।

crime, india lockdownमहिला के मुताबिक उनपर कोरोना फैलाने का आरोप भी लगाया गया। प्रतीकात्मक तस्वीर।

झारखंड के जमशेदपुर में स्थित एक सरकारी अस्पताल में गर्भवती महिला के साथ बदसलूकी किये जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला का नाम रिजवाना खातून बताया जा रहा है। रिजवाना का आरोप है कि अस्पताल में सही समय पर इलाज ना मिलने की वजह से उनके बच्चे की मौत हो गई। महिला का कहना है कि प्रसव पीड़ा होने की वजह से वो गुरुवार को Mahatma Gandhi Memorial (MGM) Medical College and Hospital में गई थीं। अस्पताल के फर्श पर जब खून गिर गया था तो अस्पताल कर्मियों ने उनसे खून तक साफ कराया।

रिजवाना खातून ने राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को खत लिखकर बताया है कि अगर उन्हें अस्पताल में सही समय पर इलाज मिल गया होता तो उनके बच्चे की जान बच जाती। महिला ने सीएम को यह चिट्ठी रविवार (19 अप्रैल, 2020) को लिखी है।

महिला ने अपनी चिट्ठी में बताया कि जमीन पर गिरे खून को साफ करने में उसका काफी समय बर्बाद हुआ। महिला के मुताबिक अस्पताल के कर्मचारी ने उन्हें चप्पल से पीटा। उनके धर्म को लेकर उन्हें भला-बुरा कहा गया है और यह भी कहा गया कि वो कोरोना वायरस फैला रही हैं।

महिला ने बताया कि उन्हें प्रसव पीड़ा काफी ज्यादा हो रही थी लिहाजा वो एक निजी अस्पताल में गईं। अस्पताल में चिकित्सकों ने उन्हें बताया कि उनके बच्चे की मौत हो चुकी है। महिला ने सीएम को चिट्ठी लिखकर इस मामले में सभी दोषियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की है ताकि दूसरी जगहों पर ऐसी घटना ना हो सके।

अभी इस मामले में सरकार की तरफ से क्या एक्शन लिया गया है इसकी कोई जानकारी सामने नहीं आई है। आपको बता दें कि देश भर में इस वक्त लॉकडाउन है और कोरोना से जंग लड़ने में देश के अलग-अलग अस्पताल और उसके चिकित्सक अहम भूमिका अदा कर रहे हैं।

जिस तरह से झारखंड के एक बड़े अस्पताल में गर्भवती महिला के साथ यह सलूक किया गया उसके बाद से अस्पताल प्रबंधन अब सवालों के कटघऱे में है।

Next Stories
1 नमाज अदा करने BSP के पूर्व MLA समर्थकों संग मस्जिद पहुंचे, मना करने पर इमाम को लाठियों से पीटने का आरोप; केस दर्ज
2 Coronavirus, Covid-19 Lockdown: बांग्लादेश में धार्मिक नेता के जनाजे में जुटे 1 लाख लोग, पुलिस ने कहा- नहीं रोक सकते
3 लॉकडाउन में शिक्षा मंत्री के पीए ने की मछली पार्टी, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, अधिकारियों समेत 25 के खिलाफ FIR
ये पढ़ा क्या?
X