ताज़ा खबर
 

कम नंबर आने की आशंका से परेशान IIT हैदराबाद के छात्र ने किया सुसाइड, 6 महीने में दूसरा मामला

पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट में उसने अपने कुछ दोस्तों का भी जिक्र किया है। नोट में लिखा था, 'मैंने कभी नहीं सोचा था कि तुम सभी को छोड़कर चला जाऊंगा। मुझे याद मत करना। मैं इसके लायक नहीं हूं। मैं सभी से प्यार करता हूं क्योंकि तुमने वो सबकुछ किया जो दोस्त करते हैं।'

Author हैदराबाद | Published on: July 3, 2019 1:13 AM
तस्वीर का प्रयोग प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

आईआईटी हैदराबाद के एक छात्र ने हॉस्टल के कमरे में पंखे से लटककर कथित तौर पर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने मंगलवार (2 जुलाई) को घटना की जानकारी दी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस साल संस्थान में खुदकुशी का यह दूसरा मामला है। डीएसपी पी श्रीधर रेड्डी ने बताया कि 20 वर्षीय छात्र मार्क एंड्रयू चार्ल्स सोमवार (1 जुलाई) को रात करीब 11 बजे अपने हॉस्टल के कमरे में पहुंचा था। मंगलवार को जब काफी देर तक वह नहीं दिखा तो दोस्तों ने कमरे का दरवाजा तोड़ दिया। वहां उन्होंने मार्क को लटका हुआ देखा।

डीएसपी ने बताया, ‘कुछ दिनों पहले ही छात्र ने मास्टर इन डिजाइनिंग में फाइनल ईयर की परीक्षा दी थी। वह फाइनल प्रेजेंटेशन की तैयारी कर रहा था। वह उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित नारिया लंका क्षेत्र का रहने वाला था।’ पुलिस को घटनास्थल से डायरी में लिखा एक सुसाइड नोट भी मिला। इसमें लिखा था कि उसे परीक्षा में अच्छे नंबर नहीं मिलेंगे और दुनिया में फेल होने वालों का कोई भविष्य नहीं है। पुलिस का मानना है कि अवसाद की वजह से ही छात्र ने सुसाइड कर लिया।

पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट में उसने अपने कुछ दोस्तों का भी जिक्र किया है। नोट में लिखा था, ‘मैंने कभी नहीं सोचा था कि तुम सभी को छोड़कर चला जाऊंगा। मुझे याद मत करना। मैं इसके लायक नहीं हूं। मैं सभी से प्यार करता हूं क्योंकि तुमने वो सबकुछ किया जो दोस्त करते हैं।’ पुलिस के मुताबिक छात्र ने अपने माता-पिता के त्याग के साथ इंसाफ नहीं कर पाने पर दुख भी जताया। उसने लिखा, ‘सबसे अच्छे अभिभावक बनने के लिए धन्यवाद। मैं माफी चाहता हूं कि मैं बेकार हो गया।’ आईआईटी हैदराबाद ने घटना पर दुख प्रकट करते हुए कहा, ‘यह संस्थान और परिवार के लिए बड़ी क्षति है। आत्मा को शांति मिले।’

पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर शव को परीक्षण के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया। डीएसपी के मुताबिक छात्र के माता-पिता भी घर से निकल चुके हैं। बता दें कि इसी साल 31 जनवरी को एम अनिरुद्ध नाम के छात्र ने भी हॉस्टल की बिल्डिंग से कूदकर सुसाइड कर लिया था। वह मैकेनिकल एंड एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में तृतीय वर्ष का छात्र था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 खौफनाक ट्रिपल मर्डर : कटर से किए मां व 2 बच्चियों के टुकड़े, डॉगी को खिला दिया बच्ची का शव
2 दिल्लीः भाई का इलाज कराने आई महिला को दिया झांसा, एक्स-रे कराने के बहाने किया रेप
3 उत्तर प्रदेश: फर्जी कागजात लगा एक ही फ्लैट पर कई बैंकों से लिया लोन, ऐसे हुआ खुलासा