ताज़ा खबर
 

हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर: खामोश करने के लिए पीड़िता के मुंह में व्हिस्की डालने लगे थे आरोपी! सामने आए दिल दहला देने वाले डिटेल्स

महिला की चीखें बंद करने के लिए बदमाशों ने उनके मुंह में शराब की बोतल डाल कर उन्हें जबरदस्ती शराब पिलाने की कोशिश की।

crime, crime news, rapeप्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Hyderabad GangRape & Murder Case: हैदराबाद में महिला चिकित्सक से हुई हैवानियत ने देश को झकझोर दिया है। मामले के सभी आरोपियों के खिलाफ लोगों में आक्रोश है और पुलिस की कार्यशैली कई गंभीर सवालों में घिरी है। मामले के आरोपी पुलिस के शिकंजे में हैं और कहा जा रहा है सभी आरोपी आपस में पुराने दोस्त हैं। इनमें से एक ट्रक ड्राइवर है और तीन क्लीनर। जैसे-जैसे पुलिस की तफ्तीश अब आगे बढ़ रही है कुछ ऐसे खुलासे हो रहे हैं जिनके बारे में जानकर आप यह समझ सकेंगे कि यह चारों आरोपी कितने बड़े हैवान हैं…? घटना के वक्त महिला डॉक्टर ने मदद के लिए आवाज भी लगाई थी लेकिन किस तरह उनकी आवाज को दबाया गया यह सच्चाई जान आप दंग रह जाएंगे।

सभी आरोपियों ने जमकर पी शराब: Hyderabad GangRape & Murder केस के चारों आरोपियों की रिमांड रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि इन चारों ने मिलकर महिला डॉक्टर की स्कूटी की टायर उस वक्त पंक्चर कि जब उन्होंने स्कूटी को पार्क किया था। स्कूटी पार्क करने के बाद वो एक टैक्सी लेकर किसी अन्य चिकित्सक से मिलने गई थीं। उस वक्त घड़ी में शाम 6.15 मिनट का वक्त हुआ था। इन चारों की पहचान मोहम्मद आरिफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंता के तौर पर हुई है। महिला पर हमले से पहले इन चारों ने जमकर शराब भी पी थी। यहां आपको बता दें कि रिमांड रिपोर्ट आरोपियों के बयान के आधार पर तैयार किया जाता है।

चीख दबाने के लिए मुंह में डाली शराब की बोतल: रात करीब 9.15 बजे इन सभी ने महिला को मदद करने के लालच देकर उनका भरोसा जीतने की कोशिश की। लेकिन जब उन्होंने देखा कि वो फोन पर किसी से बातचीत कर रही हैं तब इनमें से तीन बदमाशों ने महिला को दबोच लिया। यह तीनों बदमाश 26 साल की महिला को जबरदस्ती घसीट कर झाड़ियों में ले गए और तब उन्होंने उनका मोबाइल भी स्विच ऑफ कर दिया। अचानक हुए हमले के बाद महिला मदद के लिए चिल्लाने लगी। महिला की चीखें बंद करने के लिए बदमाशों ने उनके मुंह में शराब की बोतल डाल कर उन्हें जबरदस्ती शराब पिलाने की कोशिश की।

डेड बॉडी के साथ घूमते रहे: चारों ने महिला के साथ घिनौना कृत्य कर उन्हें लहूलुहान कर दिया। बेहोश पड़ी महिला को जब थोड़ा-थोड़ा होश आने लगा तब चारों ने मिलकर गला दबाकर उनकी हत्या कर दी। इन चारों ने एक कंबल में उनकी डेड बॉडी को लपेटा और ट्रक में डालकर 27 किलोमीटर दूर तक ले गए। काफी देर तक चारों महिला की डेड बॉडी के साथ घूमते रहे और फिर यहां एक पुल के नीचे इन्होंने महिला की डेड बॉडी को रखा और उसपर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। उस वक्त रात करीब 2.30 बजे का वक्त हुआ था।

ट्रक ड्राइवर के पास नहीं है लाइसेंस: रिमांड रिपोर्ट से यह भी पता चला है कि इनमें से एक आरोपी जो ट्रक ड्राइवर था उसमें पास पिछले 2 सालों से ट्रक चलाने का लाइसेंस भी नहीं था। घटना से एक दिन पहले ही आरोपी ट्रक ड्राइवर को पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान पकड़ा भी था क्योंकि उसके पास गाड़ी के सभी कागज नहीं थे। लेकिन उसके ट्रक को सीज नहीं किया गया था।

‘NDTV’ से बातचीत करते हुए पीड़ित परिवार ने तेलंगाना पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए। परिवार का कहना है कि जब रात 11 बजे उन्होंने पुलिस से संपर्क किया तो पुलिस उनसे एक थाने से दूसरे थाने के चक्कर लगवाने लगी। इतना ही नहीं पुलिस यह भी अंदाजा लगाने लगी कि लड़की किसी के साथ कहीं भाग गई होगी।

बहरहाल आपको बता दें कि लोगों का गुस्सा झेलने के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार तो कर लिया है लेकिन काम में लापरवाही बरतने के आरोप में अब तक 3 पुलिस वालों को सस्पेंड भी किया जा सुका है। (और…CRIME NEWS)

Next Stories
1 गाजियाबाद में 2 युवकों की गोली मारकर हत्या, शादी समारोह में बहस के बाद दोस्त ने ली जान
2 4 साल की बच्ची से रेप की कोशिश कर रहा था आरोपी, लोगों ने कर दिया निर्वस्त्र, हाथ बांधकर सड़क पर घुमाया
3 जिस शो से प्रेरित है ‘BIGG BOSS’ उसमें कंटेस्टेंट से रेप का चला LIVE VIDEO, जम कर हो रही आलोचना
ये पढ़ा क्या?
X