ताज़ा खबर
 

मेदांता में हनीप्रीत से मिलने की ज़िद करता रहा रेप का दोषी राम रहीम, 15 जून तक के लिए इजाज़त भी मिल गई

राम रहीम गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती है। वह लगातार हनीप्रीत से मिलने पर अड़ा हुआ था। अब हनीप्रीत बिना इजाजत सीधे राम रहीम के कमरे में जा सकेगी। अस्पताल की तरफ से उसे कार्ड ईशू कर दिया गया है।

हनीप्रीत से नहीं मिल पाया राम रहीम (Photo- Ram Rahim/Facebook)

रेप का दोषी राम रहीम तबीयत खराब होने के चलते गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती है। यहां उसकी जांच चल रही है। राम रहीम का आरटी-पीसीआर कोरोना टेस्ट भी किया गया था, जिसमें वह निगेटिव पाया गया है। अस्पताल पहुंचने के साथ ही राम रहीम हनीप्रीत से मिलने पर अड़ा हुआ था। अब राम रहीम की देखभाल के लिए हनीप्रीत को 15 जून तक अस्पताल में रहने की इजाजत मिल गई है। अस्पताल की तरफ से उसे कार्ड ईशू हो गया है।

कार्ड ईशू होने का मतलब है कि अब हनीप्रीत बिना किसी रोक-टोक के अस्पताल में राम रहीम के कमरे में जा सकती है और उसे किसी इजाजत की भी जरूरत नहीं होगी। फिलहाल राम रहीम को अस्पताल की 9वीं मंजिल पर शिफ्ट कर दिया गया है और यहां डॉक्टरों की निगरानी में उसका इलाज चल रहा है। गुरमीत राम रहीम से मिलने के लिए हनीप्रीत सोमवार सुबह 8 बजे अस्पताल पहुंची थी।

पंजाब केसरी में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, हनीप्रीत जैसे ही राम रहीम से मिलने के लिए अस्पताल में दाखिल हुई तो वह दवाई लेने में भी आनाकानी करने लगा था। हनीप्रीत भी लगातार राम रहीम से मिलने पर अड़ी हुई थी। अब उसका अटेंडेंट कार्ड भी बन गया है। इसका मतलब अब बिना इजाजत के वह राम रहीम के कमरे में सीधा दाखिल हो सकती है और उसका पूरा ध्यान रख सकती है। इसके बाद से राम रहीम भी बिल्कुल शांत है।

बता दें, राम रहीम सुनारिया जेल में बंद है। पेट में दर्द की शिकायत के बाद उसे रोहतक पीजीआईएमएस में लाया गया था। यहां उसकी जांच की गई थी, लेकिन आगे की जांच के लिए उसे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में लाया गया था जहां अभी वह भर्ती है। पहले उसका रैपिड एंटीजन किट से कोरोना टेस्ट भी किया गया था, जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया था। हालांकि बाद में आरटी-पीसीआर में वह कोरोना निगेटिव आया।

कौन है हनीप्रीत-

हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। हनीप्रीत को राम रहीम अपनी बेटी कहता है। 25 अगस्त 2017 को पंचकुला कोर्ट ने राम रहीम को दो महिलाओं से रेप के आरोप में दोषी ठहराया था, जिसमें उसे 20 साल की जेल हुई थी। इसके बाद शहर में काफी आगजनी हुई थी। इसमें 41 लोगों की जान चली गई थी और हिंसा को भड़काने के आरोप में हनीप्रीत के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

Next Stories
1 16 वर्षीय नाबालिग से बर्थडे पार्टी में दोस्तों ने किया गैंगरेप, पुलिस ने छह आरोपियों को किया गिरफ्तार
2 पाकिस्तान में 50 महिलाओं के शवों के साथ रेप कर चुका था ये शख्स, आखिरी में हुआ कुछ ऐसा कि डरकर भागा
3 यूपी में मंदिर में बैठी छात्रा से चाकू की नोक पर छह लड़कों ने किया गैंगरेप, पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार
यह पढ़ा क्या?
X