देखिए, कानपुर में रिटायर्ड फौजी की बदमाशों ने की सरेआम पिटाई, मुख्य आरोपी है हिस्ट्रीशीटर

घटना के पीछे कानपुर नगर के बर्रा थाना क्षेत्र में दबंगों का वर्चस्व कायम करना वजह थी। पीड़ित को पैरों, हाथों और डंडों से जमकर धुना गया। बचने के लिए फौजी वहां से भागने लगा तो उसको बुरी तरह धक्का देकर गिरा दिया गया। इससे उसे गंभीर चोटें आई हैं।

Kanpur, Crime
घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच में जुटी है। (फाइल फोटो)

यूपी के कानपुर में अपराधी बेलगाम होते जा रहे हैं। इसकी वजह से आम जनता में आक्रोश भी बढ़ रहा है। जिले के बर्रा थाना क्षेत्र के ठाकुर चौराहे पर गुरुवार को बेखौफ बदमाशों ने एक रिटायर्ड फौजी की सरेआम पिटाई कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घटना का मुख्य आरोपी हिस्ट्रीशीटर है। दूसरी तरफ कानपुर देहात के दो पक्षों में मारपीट में जमकर बवाल हुआ है।

कानपुर नगर के बर्रा थाना क्षेत्र में वर्चस्व कायम करने के लिए दबंगों ने गुरुवार को एक रिटायर्ड फौजी की जमकर पिटाई कर दी। इलाके का हिस्ट्रीशीटर दबंग विकास उर्फ जिम्मी तथा उसके गुर्गे गुरुवार की सुबह बाइक से पहुंचे और क्षेत्र के ठाकुर चौराहे पर सड़क पर जा रहे रिटायर्ड फौजी को पहले घेर लिया, फिर उसकी जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान उसको पैरों, हाथों और डंडों से जमकर धुना गया। उनसे बचने के लिए फौजी जब वहां से भागने लगा तो उसको बुरी तरह धक्का देकर गिरा दिया गया। इससे उसे गंभीर चोटें आई हैं।

पिटाई की पूरी घटना पास के एक घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने लूट, बलवा और मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। इसको लेकर स्थानीय लोगों में जबर्दस्त आक्रोश है। लोगों का आरोप है कि दबंगों पर पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती है। दूसरी तरफ कानपुर देहात के सट्टी थाना क्षेत्र के नौबतपुर गांव में गुरुवार को दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। दोनों तरफ से लाठी-डंडे चले। इसमें कई लोग घायल हो गए। घटना का वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

उधर, एक अन्य घटना में मकान मालिक द्वारा घर से बाहर करने पर किरायेदार ने बदला लेने के इरादे से कुख्यात बदमाशों का नाम लेकर उससे 80 लाख रुपए की रंगदारी मांगी। थाना फेस-3 पुलिस ने इस मामले में बुधवार रात को दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

अपर पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) अंकुर अग्रवाल ने बताया कि सेक्टर 67 में स्थित एक फैक्ट्री के मालिक ने थाना फेस-3 में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि कुछ बदमाश व्हाट्सएप कॉल करके कुख्यात गैंगस्टर रोबिन तथा शातिर शूटर कालिया के नाम से धमकी देकर उनसे 80 लाख रुपए की रंगदारी मांग रहे हैं। उन्होंने बताया कि बुधवार की रात को पीड़ित बदमाशों के कहे अनुसार उन्हें रंगदारी देने के लिए गए।

अपर उपायुक्त ने बताया कि पुलिस ने रंगदारी लेने आए बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान रोहित कुमार सिंह पुत्र अमर सिंह निवासी जनपद छपरा बिहार तथा लोकेश कुमार पुत्र शिव कुमार निवासी जनपद इटावा के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि उनके पास से एक देसी तमंचा, घटना में प्रयुक्त मोबाइल फोन तथा मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों में से एक रोहित कुछ समय पहले पीड़ित के सेक्टर 50 स्थित घर पर किराए से रहता था। वहां पर उसने मकान मालिक की बेटी के साथ अभद्रता की थी जिसके बाद उसे घर से निकाल दिया गया था। इस बात का बदला लेने के लिए उसने अपने साथियों के संग मिलकर रंगदारी वसूलने की योजना बनाई। पुलिस ने आज आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उनको 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X