ताज़ा खबर
 

वेश्याओं की हत्या कर सूअर के बाड़े में दफनाता, 49 कत्ल करने वाले को 50वां ना कर पाने का है अफसोस

वो अलग-अलग जगहों पर जाकर वेश्याओं से बातचीत करता और उन्हें ड्रग्स और शराब का लालच देकर अपने फार्म तक लाता था।

कहा जाता है कि उसने सूअर के मांस में इंसानों का मांस मिलाकर कई लोगों को बेचा भी है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

उसे दुनिया के सबसे खूंखार किलरों में शुमार किया जाता है। उसने 49 कत्ल किए हैं और पकड़े जाने के बाद उसने कहा कि उसे 50वां नहीं कर पाने का अफसोस है। कनाडा के इस क्रूर कातिल का नाम रॉबर्ट पिकटोन है। उसने Vancouver के नजदीक स्थित अपने फार्म में 49 महिलाओं की हत्या की और उनके शवों को दफनाया। रॉबर्ट ज्यादातर वेश्याओं को अपना निशाना बनाता था। वो अलग-अलग जगहों पर जाकर वेश्याओं से बातचीत करता और उन्हें ड्रग्स और शराब का लालच देकर अपने फार्म तक लाता था। इतना ही नहीं हत्या करने से पहले रॉबर्ट इन वेश्याओं के साथ सेक्स भी करता था। वेश्याओं की हत्या के बाद वो उनके शव को विखंडित कर सूअर को रखे जाने वाले बाड़े में फेंक देता।

कहा जाता है कि उसने सूअर के मांस में इंसानों का मांस मिलाकर कई लोगों को बेचा भी है। रॉबर्ट महिलाओं को इंजेक्शन देकर मारता था। वो इन महिलाओं से कहता था कि यह ड्रग्स का इंजेक्शन है। साल 2002 में जब पुलिस ने हथियारों की तलाश में उसके पिग फार्म में छापेमारी की तो वहां से पुलिस को 26 महिलाओं के डीएनए मिले। साल 2006 में रॉबर्ट पिकटोन पर छह हत्याओं के जुर्म में फर्स्ट डिग्री का चार्ज लगाया गया। उसे 25 साल तक जेल की सजा सुनाई गई।

ब्रिटिश नेटवर्क सीबीएस रिएलटी ने ‘वॉयस ऑफ ए सीरियल किलर’ के अपने एपिसोड में 68 साल के रॉबर्ट पिकटोन के कबूलनामे से जुड़ा एक वीडियो प्रसारित किया था। इस वीडियो में पिकटोन ने अफसोस जताते हुए कहा था कि वो सिर्फ एक और महिला का कत्ल कर 50 के आंकड़े को पूरा करना चाहता था। बता दें कि पिकटोन का जन्म 26 अक्टूबर 1949 को हुआ था। रॉबर्ट पेशे से कसाई था और उसका एक पिग फार्म था।

वर्ष 1995 से लेकर साल 2001 तक रॉबर्ट ने कुल 49 कत्ल किए। हालांकि जब रॉबर्ट को जेल हुई थी तब पीड़ितों के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया था कि इस मामले में पुलिस ने गहनता से छानबीन नहीं की क्योंकि ज्यादातर महिलाएं सेक्स वर्कर थीं। परिजनों का आरोप था कि अगर पुलिस इस मामले में गहनता से छानबीन करती तो कई और हत्याओं का खुलासा हो सकता था। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X