ताज़ा खबर
 

गुरुग्राम में बीच सड़क पर जज की बीवी और बेटे को बॉडीगार्ड ने मारी गोली, महिला की मौत

गुरुग्राम की डीसीपी ईस्ट सुलोचना गुर्जर ने बताया कि अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश की पत्नी को उनके गनमैन ने ही गोली मारी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आराेपी गनर को पुलिस ने पकड़ लिया है।

गुरुग्राम में गोलीकांड के बाद खड़ी कार। फोटो- एएनआई

गुरुग्राम के सेक्टर 49 में उस वक्त सनसनी फैल गई जब एक पुलिसकर्मी ने एक महिला और उसके बेटे को बीच बाजार में गोली मार दी। गोलियों की आवाज से इलाके में अफरातफरी फैल गई। पीड़िता महिला गुरुग्राम के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कृष्णकांत शर्मा की पत्नी हैं। उन्हें गोलियां मारने वाला पुलिसकर्मी महिपाल उनके परिवार की सुरक्षा में ही तैनात किया गया था। मेदांता अस्‍पताल में इलाज के दौरान महिला की मृत्‍यु हो गई।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्राथमिक रिपोर्ट में कहा गया कि सिक्योरिटी गार्ड महिपाल सिंह ने महिला और उनके बेटे पर गोली चलाई। हम कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। वहां से गुजर रहे एक व्यक्ति द्वारा बनाई गई वीडियो में वर्दी पहने एक संदिग्ध हमलावर न्यायाधीश के बेटे को खींचकर एक गाड़ी में बिठाने का प्रयास कर रहा है लेकिन जब वह ऐसा नहीं कर सका तो वह घटनास्थल से फरार हो गया।

घटना की सूचना मिलते ही गुरुग्राम सेक्टर—50 थाने की पुलिस ने मौका मुआयना किया। पुलिस ने ही दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया था। जिस स्थान पर फायरिंग की घटना हुई है वह बेहद भीड़ भरा इलाका है। समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में गुरुग्राम की डीसीपी ईस्ट सुलोचना गुर्जर ने बताया कि अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश की पत्नी को उनके गनमैन ने ही गोली मारी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

वैसे बता दें कि घटना के बाद आरोपी गनर महिपाल सदर थाने पहुंचा था। वहां भी उसने हवा में फायर किया और भागने की कोशिश की। सदर थाने में एसएचओ ने उसे पकड़ने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। घटना की खबर मिलते ही गुड़गांव पुलिस के आला अधिकारी हरकत में आए और आरोपी गनर महिपाल को जल्‍द ही गिरफ्तार कर लिया गया। बताया जा रहा है कि गनर जज की पत्नी के बुरे बर्ताव से नाराज था।

घटना के बाद फरेंसिक टीम ने सेक्टर-49 में​ स्थित घटनास्थल का मौका मुआयना किया है। टीम ने मौके सेे सारे सबूत इकट्ठा करने की कोशिश की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App