ताज़ा खबर
 

‘गे’ भाई ने बहन को गला दबा मार डाला, पुलिस से कहा – शैतान ने हत्या करना का हुक्म सुनाया था

अपनी बहन को मारने से पहले अशरफ ने अपने एक दोस्त को कई बार फोन कर कहा कि 'उसे मरना होगा...लेकिन तुम जानते हो कि मैं उससे कितना प्यार करता हूं।'

Author Published on: November 15, 2019 11:25 AM
लड़के ने कहा कि उसके डिनर में चिकेन का पीस शैतान ने भेजा था। प्रतीकात्मक तस्वीर।

यह युवक ‘गे’ था और अगर उसकी माने तो उसने शैतान की हुक्म पाकर अपनी बहन की गला दबाकर हत्या कर दी। जब पुलिस वालों ने उससे हत्या की वजह पूछी तो उसने कहा कि – शैतान ने उसे हत्या करने का हुक्म सुनाया था। जानकारी की मुताबिक 35 साल की शारा अशऱफ अपने 32 साल के भाई खालिद के साथ रहने गई थी। दरअसल खालिद की तबियत खराब थी और हाल ही में उसका HIV टेस्ट भी पॉजीटिव आया था। बताया जा रहा है कि खालिद पिछले कुछ दिनों से मानसिक रूप से परेशान था और डिप्रेशन में आकर उसने अपनी बहन की हत्या कर दी।

इस हत्या की जानकारी पड़ोसियों ने पुलिस वालों को दी। जब पुलिस वाले मौके पर पहुंचे तो अशरफ ने उनसे कहा कि ‘उसके रात के खाने में चिकेन का एक पीस शैतान ने दिया था और उसने ही इस हत्या का हुक्म सुनाया था।’ जानकारी के मुताबिक शारा अशऱफ अपने भाई की बिगड़ती तबियत को लेकर परेशान थी और वो उसके देखभाल के लिए यहां आई थी। दरअसल लड़की को इस बात का डर था कि मानसिक अवसाद में आकर कहीं उसका भाई खुद को नुकसान ना पहुंचा ले।

इस हत्याकांड की सुनवाई इंग्लैंड के Old Bailey कोर्ट में हुई और अदालत को बताया गया कि जब सारा अपने भाई को नए घर में शिफ्ट कराने में मदद कर रही थी उसी तरह उसने उसे दबोच लिया। अदालत को बताया कि अशरफ खुद के मुस्लिम होने और एक ‘गे’ होने से नफरत करने लगा था। साल 2011 में जब उसे एचआईवी का पता चला तो वो और भी मानसिक अवसाद में चला गया था।

अपनी बहन को मारने से पहले अशरफ ने अपने एक दोस्त को कई बार फोन कर कहा कि ‘उसे मरना होगा…लेकिन तुम जानते हो कि मैं उससे कितना प्यार करता हूं।’ अदालत ने अशरफ को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया है। Common Sergeant of London Judge, Richard Marks QC ने कहा कि यह एक बेहद ही दुखद मामला है।

अशफर के वकील Dean George ने अदालत से कहा कि वो अपनी मानसिक परेशानियों से उबरने की कोशिश कर रहा था। वो अपनी बहन से काफी प्यार करता था। अदालत ने आदेश दिया है कि उसका तब तक इलाज किया जाए जब तक कि यह पूरी तरह साफ ना हो जाए कि दोबारा किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएगा।

Detective Chief Inspector, Paul Considine ने बताया कि अशरफ का परिवार इस हादसे के बाद पूरी तरह टूट चुका है। सारा ने खुद कहा था कि वो अपने भाई की देखभाल करना चाहती है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 INS Angre पर तैनात जवान ने ऑन ड्यूटी खुद को मारी गोली, सिर से सटाई राइफल और उड़ा लिया भेजा
2 4 हत्याएं कर खून से सनी शर्ट पहन पहुंचा थाने, बोला – मां-बाप और कुत्तों को गोली से उड़ा दिया
3 Noida: 6 लोगों ने 20 साल की युवती से गैंगरेप कर जख्मी किया प्राइवेट पार्ट, चौकी के पास अंजाम दी गई वारदात, बेखबर रही पुलिस
जस्‍ट नाउ
X