ताज़ा खबर
 

सपना ने दाऊद को मारने की खाई थी कसम, अंडरवर्ल्ड में यूं हुई एंट्री

लेडी डॉन बनकर नाम कमाने के बाद सपना दीदी ने दाऊद इब्राहिम को ठिकाने लगाने के लिए शारजहां को चुना। सपना दीदी की योजना थी क्रिकेट के शौकिन दाऊद इब्राहिम को शारजहां में एक क्रिकेट मैच के दौरान ठिकाने लगाने की।

Author Published on: April 21, 2019 3:44 PM
सपना ने बंदूक चलाना और सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग भी ली। प्रतीकात्मक तस्वीर।

इस महिला गैंगस्टर ने अंडरवर्ल्ड के सबसे बड़े डॉन दाऊद इब्राहिम को जान से मारने की कसम खाई थी। उसने दाऊद को मौत के घाट उतारने की सारी प्लानिंग भी कर ली थी लेकिन उसकी यह मंशा कभी पूरी ना हो सकी। आज हम जिस लेडी डॉन की बात कर रहे हैं उसे जुर्म की दुनिया में ‘सपना दीदी’ के नाम से जाना जाता है। ‘सपना दीदी’ का असली नाम अशरफा खान था। एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाली अशरफा खान ने महमूद कालिया नाम के एक शख्स से शादी की थी। महमूद कालिया के बारे में कहा जाता है कि वो अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के लिए काम करता था। हालांकि अशरफा ने इस बात की कभी परवाह नहीं की कि उसका पति किसके लिए काम करता है या फिर उसके पति की कमाई का जरिया क्या है? हां, इतना जरुर है कि अशरफा अपने वैवाहिक जीवन से खुश थी और अपने पति से काफी प्यार भी करती थी।

शादी के पांच साल बाद अचानक एक दिन दुबई से लौटते वक्त मुंबई एयरपोर्ट पर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट अमोलिक ने महमूद कालिया को घेर कर उसे ढेर कर दिया। पति की मौत से दुखी अशरफा को किसी ने बताया कि उसके पति की हत्या दाऊद इब्राहिम ने कराई है क्योंकि उन्होंने डॉन के लिए काम करने से इनकार कर दिया था। इस बात के खुलासे के बाद अशरफा की जिंदगी ने जबरदस्त करवट ली। सबसे पहले अशरफा ने दाऊद को मारने की कसम खाई और इसके बाद दाऊद के सबसे बड़े दुश्मन अरुण गवली से उसने इस काम के लिए मदद मांगी।

लेकिन कहा जाता है कि अरुण गवली ने अशरफा को मदद देने से इनकार कर दिया और फिर इसके बाद अशरफा ने सोचा कि शायद हिंदू गैंगस्टर, मुस्लिमों पर भरोसा नहीं करते और उसने अपना नाम बदलकर ‘सपना’ रख लिया। सपना इसके बाद हुसैन उस्तारा नाम के एक गैंगस्टर से मिली और हुसैन भी दाऊद के बड़े दुश्मनों में से एक था। हुसैन ने ही सपना को सेल्फ डिफेंस, हथियार चलाना और अन्य खतरनाक चीजों की ट्रेनिंग दी। गैंगस्टर बनने की ट्रेनिंग हासिल करने के बाद सपना गैंगस्टरों की दुनिया में ‘सपना दीदी’ के नाम से कुख्यात हो गई। उसने अपने गुर्गों से कई अपराध भी करवाए।

लेडी डॉन बनकर नाम कमाने के बाद सपना दीदी ने दाऊद इब्राहिम को ठिकाने लगाने के लिए शारजहां को चुना। सपना दीदी की योजना थी क्रिकेट के शौकिन दाऊद इब्राहिम को शारजहां में एक क्रिकेट मैच के दौरान ठिकाने लगाने की। लेकिन कहा जाता है कि सपना का यह फुल प्रुफ प्लान किसी तरह लीक हो गया और फिर कुख्यात डॉन दाऊद इब्राहिम ने अपने गुर्गों से मिलकर सपना और उसके साथियों की हत्या करवा दी। ‘सपना दीदी’ के बारे में यह भी कहा जाता है कि महमूद कालिया के मरने के बाद सपना ने सब इंस्पेक्टर एन शेख से दूसरी शादी की थी। उसने पुलिस को गुप्त सूचना देकर दाऊद के कई साथियों को मरवाया भी था। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नाचने से मना किया तो डांसर सपना का सिर काट डाला, पुलिस ने यूं सुलझाया ब्लाइंड मर्डर केस
2 सामूहिक हत्याकांड के दोषी बीजेपी विधायक समेत 11 को उम्रकैद, सजा के ऐलान होते ही फरार हुए एमएलए
3 मुस्लिम कैदी की पीठ पर गर्म लोहे से लिख दिया ‘ॐ’, दो दिन खाने भी नहीं दिया, जेल सुपरिटेंडेंट पर आरोप
जस्‍ट नाउ
X