दिल्ली: 9 साल की बच्ची की गैंगरेप के बाद हत्या, पुजारी समेत चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

लिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की आगे जांच की जा रही है। नाराज़ परिजनों ने गांव के लोगों के साथ मिलकर पुलिस स्टेशन के बाहर रविवार रात प्रदर्शन भी किया था।

rape in ghaziabad, delhi crime
प्रतिकात्मक तस्वीर (फोटो-Indian Express)

राजधानी दिल्ली से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। 9 साल की बच्ची के साथ आरोपियों ने पहले रेप और बाद में उसकी हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने वालों में एक पुजारी समेत चार आरोपी हैं। तीन आरोपी श्मशान घाट में काम करते थे। हत्या करने के बाद आरोपियों ने माता-पिता की अनुमति के बिना और पुलिस को सूचना दिए बिना ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की आगे जांच की जा रही है। नाराज़ परिजनों ने गांव के लोगों के साथ मिलकर पुलिस स्टेशन के बाहर रविवार रात प्रदर्शन भी किया था। पुलिस ने बताया, ‘परिजनों ने अपनी शिकायत में शक जाहिर किया था कि बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न किया गया था और बाद में उसकी हत्या कर दी गई थी। इसके बाद उसका जल्दबाजी में अंतिम संस्कार किया गया था।’

दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस: पुलिस के मुताबिक, संदिग्धों ने परिजनों को बताया था कि बच्ची की मौत करंट लगने से हो गई थी और परिवार को भी पुलिस में शिकायत नहीं करने के बारे में कहा था। आरोपियों ने परिजनों को कहा था कि पुलिस इस मामले में शिकायत दर्ज करेगी और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज देगी। जहां बच्ची के जरूरी हिस्सों को निकालकर बेच दिया जाता है। पुलिस ने रेप, मर्डर और आपराधिक धमकी का केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस ने IPC की धारा 302, 376 और 506 के तहत केस दर्ज किया है और इसके अलावा पॉक्सो और एससी/एसटी एक्ट के तहत भी केस दर्ज किया गया है। अरोपियों की पहचान 55 वर्षीय पुजारी राधे श्याम और तीन अन्य आरोपियों की पहचान सलीम, लक्ष्मी नारायण और कुलदीप के रूप में हुई है। डीसीपी (साउथ-वेस्ट) ने बताया कि सभी आरोपी लड़की की मां को पहले से ही जानते थे। रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे श्मशान घाट के पास अपने माता-पिता के साथ रहने वाली बच्ची श्मशान घाट के वाटर कूलर से पानी लेने गई थी।

अपडेट