ताज़ा खबर
 

नाबालिग से गैंगरेप करने के आरोप में कोर्ट ने दो आरोपियों को सुनाई 20 साल जेल की सजा, जानिए क्या था पूरा मामला

ये घटना 2 अप्रैल 2017 को हुई थी जब 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा बाइसाइकिल योजना के तहत मौद्रिक स्कीम के बारे में पता करने बैंक की स्थानीय शाखा में गई थी। तब वह 15 साल की थी।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (Photo- Indian Express)

ओडिशा में कक्षा 10वीं में पढ़ने वाली नाबालिग लड़की से रेप करने के आरोप में कोर्ट ने दो आरोपियों को 20 साल कैद की सजा सुनाई है। 2017 में घटना के समय दो आरोपी नाबालिग थे। दो आरोपियों को IPC की धारा 376 (D) के तहत दोषी ठहराया गया था। कोर्ट ने इस मामले में सुनावई करते हुए दो आरोपियों को 20 साल कैद और 50 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया है। अगर आरोपी जुर्माना नहीं भरते हैं तो उन्हें दो साल और जेल में काटने होंगे।

ये घटना 2 अप्रैल 2017 को हुई थी जब 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा बाइसाइकिल योजना के तहत मौद्रिक स्कीम के बारे में पता करने बैंक की स्थानीय शाखा में गई थी। तब वह 15 साल की थी। पीड़िता के गांव का ही रहने वाला एक लड़का उसे वहां मिल गया था। दोनों साथ में घर में लौट रहे थे तभी रास्ते में उसे दो अन्य लड़के मिल गए। तीनों लड़कों ने पीड़िता को कहा कि वह घर जाने से पहले पास के ही मंदिर में चलते हैं।

हालांकि शुरुआत में लड़की मना करती रही, लेकिन बाद में उन लोगों को मनाने पर उसने हां कर दी। मंदिर परिसर खाली होने का फायदा उठाते हुए, तीनों नाबालिग लड़की को मंदिर के पास एक खाली स्थान पर एक पहाड़ी पर ले गए। यहां पीड़िता के साथ दरिंदगी की गई। आरोपियों ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया था और बाद में इसे सोशल मीडिया पर भी शेयर कर दिया था।

एसएचओ सस्पेंड: हरियाणा के नारायगढ़ में महिला पुलिस स्टेशन के 15 पुलिसकर्मियों का ट्रांसफर कर दिया गया था। आरोप था कि पुलिसकर्मियों ने रेप केस की जांच करने में देरी की थी। जबकि इससे पहले एसएचओ और सब-इंस्पेक्टर सस्पेंड हो चुके थे। मामला वरिष्ठ अधिकारियों के समक्ष पहुंचा तो उन्होंने तुरंत मामले को गंभीरता से लेते हुए विभागीय जांच भी शुरू कर दी थी। पीड़िता के परिजनों ने हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज से जांच करवाने की मांग की थी। इसके बाद पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए जांच तेज कर दी।

Next Stories
1 हरियाणा: रेप केस पर लापरवाही बरतने पर 15 पुलिसकर्मियों का तबादला, SHO को किया सस्पेंड
2 Akash Kulhari :10वीं में फेल होने पर निकाल दिया था स्कूल से, पढ़ाई में ऐसे जुटे कि बन गए IPS
3 दिन में 9-10 घंटे पढ़ाई करती थीं आशिमा गोयल, UPSC में 65 रैंक हासिल कर बनीं IAS अधिकारी, शेयर किया अनुभव
ये पढ़ा क्या?
X