ताज़ा खबर
 

Olx, Quikr पर हो रहे सबसे बड़े फ्रॉड का खुलासा, डील के बहाने लोगों को यूं लग रहा चूना

दरअसल आपको ऊंची कीमत का लालच देकर यह शख्स पैसों का पूरा घालमेल (Unified Payments Interface) यानी UPI app पर करता है।

olx, quikr, add, crimeधोखेबाज आपको ज्यादा पैसे देने की लालच में ठग रहे हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो सोर्स – Financial Express

कई लोग Olx, Quikr पर अपना सामान बेचने के लिए विज्ञापन डालते हैं। लेकिन क्या आपको यह अंदाजा है कि विज्ञापन दिखाने वाले इन प्लेटफॉर्मों के जरिए आपको चूना भी लगाया जा सकता है? Olx और Quikr पर होने वाले सबसे बड़े फ्रॉड का हाल ही में खुलासा हुआ है। दरअसल Olx और Quikr पर यह स्कैम इसलिए फल-फूल रहा है क्योंकि कई लोग यहां होने वाले चीटिंग को समझ नहीं पाते। इसलिए जरुरी है कि आप इन साइटों पर विज्ञापन डालने से पहले जरुरी बातों को जान लें।

जब कभी आप Olx या Quikr पर अपने सामान मसलन – फर्नीचर, साइकिल, गाड़ी, गिटार इत्यादि बेचने के लिए विज्ञापन डालते हैं तो अक्सर आपको अपने रजिस्टर्ड नंबर पर उस शख्स का फोन आता है जो यह सामान खरीदने का इच्छुक होता है। आम तौर पर फोन करने वाला शख्स आपसे प्रोडक्ट पर किसी तरह की कोई छूट नहीं मांगता और आपकी बताई गई कीमत पर सामान खरीदने के लिए राजी भी हो जाता है।

लेकिन कभी-कभी ऐसा भी होता है कि फोन करने वाला शख्स आपकी दी हुई कीमत से दोगुनी या तीन गुनी कीमत पर आपसे यह सामान खरीदने का आपको ऑफर देता है। यहीं वो फोन कॉल है जिससे आपको सावधान रहने की जरुरत है।

दरअसल आपको ऊंची कीमत का लालच देकर यह शख्स पैसों का पूरा घालमेल (Unified Payments Interface) यानी UPI app पर करता है। आपके साथ पैसों की डील हो जाने के बाद यह शख्स आपसे कहता है कि वो आपको पूरे पैसे या बुकिंग अमाउंट गूगल पे, फोन पे या दूसरे अन्य UPI apps के जरिए भेजेगा।

धोखेबाजी करने या आपको चूना लगाने वाला शख्स यहां UPI पर ‘Request Money’ का ऑप्शन चुनता है। दरअसल “Request Money” ऑप्शन के जरिए वो खुद पैसे ट्रांसफर करने के बदले आपसे पैसे लेने के बारे में पूछता है। अक्सर लोग UPI app के जरिए आए मैसेज को बिना पढ़े इसपर क्लिक कर देते हैं और इस तरह आपके अकाउंट से पैसे ठगों को ट्रांसफर हो जाते हैं।

सौदे के लिए पेमेंट से पहले पेटीएम और दूसरे UPI एप्स आपको (One Time Password) OTP भेजते हैं ताकि आप सुनिश्चित करें कि यह पेमेंट दुकानदार को हो रहा है। इस केस में धोखेबाज merchant account का इस्तेमाल करते हैं ताकि आपको पैसे डेबिट करने का OTP आए और वो इसके बारे में आपसे पूछ सकें।

यह जरुरी है कि इस तरह मोबाइल पर आए OTP को आप किसी से भी शेयर ना करें। OTP तब ही बनता है जब आप अपने अकाउंट से पैसे निकालते हैं। अगर कोई शख्स आपके अकाउंट में पैसे भेजता है तो कभी भी OTP नहीं बनता। (और…CRIME NEWS)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बेवफाई का शक था, 25 साल के युवक ने 30 साल की लिव इन पार्टनर को पीट-पीट कर मार डाला
2 हरियाणा: महिला और दलित ‘प्रेमी’ को पीटा, जूतों की माला पहनाकर गांव में घुमाया गया, काले रंग से पोत दिए चेहरे
3 बदला लेने के लिए चाकू लेकर बेडरुम में घुसी, सोए पति को 11 बार चाकू से गोद डाला
ये पढ़ा क्या?
X