ताज़ा खबर
 

Tripura: पुलिसवाले जबरन अस्पताल से खींचकर थाने लाए, फिर पत्नी संग जमकर पीटा; पूर्व PWD मंत्री का आरोप

माकपा के वरिष्ठ नेता एवं त्रिपुरा के पूर्व मंत्री बादल चौधरी पर 638.40 करोड़ रुपये के पीडब्ल्यूडी घोटाले में शामिल होने का आरोप है।

Author अगरतला | Updated: October 31, 2019 3:58 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप में किया गया है। (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार किए गए माकपा के वरिष्ठ नेता एवं त्रिपुरा के पूर्व मंत्री बादल चौधरी ने बुधवार को आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा ‘‘जबरन’’ एक निजी अस्पताल से यहां थाने लाए जाने के दौरान उनके एवं उनकी पत्नी के साथ मारपीट की गई। जबकि भाजपा की त्रिपुरा सरकार ने इन आरोपों से इनकार किया है।

पूर्व मंत्री का आरोप: पुलिसकर्मियों द्वारा एक वाहन से उतार कर पश्चिम अगरतला थाने लाए जाने के दौरान चौधरी ने चीख कर संवाददाताओं से कहा, ‘‘पुलिस ने मेरे और मेरी पत्नी के साथ मारपीट की। मुझे जबरन यहां (निजी अस्पताल से) लाया गया।’’ माकपा केंद्रीय समिति के सदस्य चौधरी को 21 अक्टूबर को एक निजी अस्पताल से गिरफ्तार किया गया था जहां वह भर्ती थे। वामपंथी शासन के दौरान वह पीडब्ल्यूडी मंत्री थे।

अस्पताल से थाने ले जाते वक्त पीटा: माकपा नेता को पुलिस के लॉकअप में ले जाया गया और बाद में सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें सरकारी अस्पताल भेजा गया। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि उन्हें अब सरकारी जीबी पंत अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चौधरी की पत्नी नमिता ने भी आरोप लगाया कि चौधरी को थाने लाए जाने के दौरान पुलिसर्किमयों ने उनके और उनके पति के साथ मारपीट की।
चौधरी के वकील ने कहा, ‘‘चौधरी को दोपहर में जबरन थाने लाया गया जब त्रिपुरा उच्च न्यायालय में उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई चल रही थी। पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। यह अमानवीय है।’’

घोटाले का आरोप: वकील ने कहा कि जब मामले की जानकारी न्यायमूर्ति को दी गई जो मामले की सुनवाई कर रहे थे, न्यायाधीश ने उन्हें एक हलफनामा दायर करने को कहा जिसमें कहा जाए कि उनके मुवक्किल के साथ पुलिस ने मारपीट की। भट्टाचार्य ने कहा कि हलफनामा दायर कर दिया गया। चौधरी की जमानत याचिका पर सुनवाई बुधवार को पूरी हो गई और न्यायाधीश ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। वहीं महाधिवक्ता अरुण भौमिक ने मारपीट के आरोपों से इनकार किया है। बता दें कि चौधरी पर 638.40 करोड़ रुपये के पीडब्ल्यूडी घोटाले में शामिल होने का आरोप है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Noida: नाले में प्रॉपर्टी डीलर का शव मिलने से हड़कंप, क्रेन की मदद से कार समेत डेड बॉडी को निकाला गया बाहर
2 Delhi: महिला और पुरुष भिखारियों ने मिलकर की बच्चा चोरी की कोशिश, लोगों ने पकड़कर किया पुलिस के हवाले
3 गाय को जहर देने का आरोप में चाचा-भतीजे के बीच खूनी संघर्ष, लाठी-डंडों से पीटकर एक को मार डाला
ये पढ़ा क्या?
X