ताज़ा खबर
 

Baghpat: गोवंश के अवशेष मिले तो मचा हड़कंप, हिंदू संगठनों के विरोध के बाद 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड

यूपी के बागपत में अब तक 23 घटनाएं हो चुकी हैं। कई लोगों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई भी की है, लेकिन गौवंश की हत्या रुकने का नाम नहीं ले रही है। इसके खिलाफ कई संगठनों ने प्रदर्शन किया।

बागपत में चरती गाएं (फोटो सोर्स -इंडियन एक्सप्रेस)

यूपी के बागपत जिले के बड़ौत के लुहारी गांव में कई गाेवंश की लाशों के अवशेष मिलने पर हड़कंप मचा हुआ है। हिंदू जागरण मंच समेत कई संगठनों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर गोवंश की हत्या करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। एसपी ने बोहला चौकी पर तैनात पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। घटना का खुलासा करने के लिए तीन टीमें गठित की गई हैं। इस बीच पुलिस ने कई मीट विक्रेताओं और नॉनवेज होटलों पर छापा मारकर 13 संदिग्ध लोगों को पकड़ा है। इनसे पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि ये लोग यह नहीं बता पाए कि मीट कहां से लाते हैं। उनको कौन बेचता है। एसपी ने गोवंश के सैंपल को जांच के लिए लैब में भेजा है।

एसपी ने कहा, लापरवाही बर्दाश्त नहीं  : बागपत जिले के पुलिस अधीक्षक प्रतापग गोपेंद्र यादव ने बताया कि मामले में लापरवाही मिलने पर बोहला चौकी पर तैनात पांचों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इनमें चौकी इंचार्ज बलराम सिंह, उप निरीक्षख ईश्वरी सिंह, हेड कॉन्स्टेबल हरेंद्र सिंह, कॉन्स्टेबल सुबोध कुमार और सुभाष शामिल हैं। एक कॉन्स्टेबल 15 अगस्त से अवकाश पर है। उन्होंने कहा कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

LIVE Hindi News Today, 24 October 2019 Election Result Updates

इस साल 23 घटनाएं हो चुकी हैं  : एसपी प्रताप गोपेंद्र यादव के मुताबिक पशु चिकित्सक से गोवंश के अवशेषों की जांच कराई जा रही है। मीट को जमीन में दबवा दिया गया है। गोवंश की हत्या की यह पहली घटना नहीं है। इस साल में अब तक 23 घटनाएं हो चुकी हैं। कई लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी हुई है। कुल 89 लोगों को जेल भेजा गया है। आईजी ने चेतावनी दी है कि जिस थाना क्षेत्र में गोवंश का कटान होगा, वहां के थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि गोकशी करने वालों पर रासुका की कार्रवाई होगी।

गोकशी नहीं रुकी तो आंदोलन की चेतावनी : जिले में गोकशी को लेकर हंगामा करने और प्रदर्शन करने वालों में हिंदू जागरण मंच के प्रांतीय सचिव अंकित बड़ौली, स्वदेश जागरण मंच के जिला संयोजक संदीप बड़ौली, सचिन, मन्नू तिवारी, सिद्धार्थ गोस्वामी सुधीर प्रधान, नितिन जैन, अंकित लपराना, नितिन गोस्वामी, शौकिंद्र सिंह, जयकुमार, अमरपाल, आदि शामिल रहे। लोगों ने चेतावनी दी है कि जिले में गोकशी नहीं रुकी तो आंदोलन किया जाएगा।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मदरसे के हेड टीचर के ख‍िलाफ यौन शोषण का केस वापस नहीं लेने पर लड़की को ज‍िंदा जलाया था, 16 लोगों को म‍िली सजा-ए-मौत
2 भाई ने 18 साल की बहन की रेप के बाद कर दी हत्या, 35 साल बाद हुआ खुलासा
3 ऑन डिमांड कारें चुराता था सवा 2 फीट का चोर, शीशा तोड़ घुसता था अंदर, उड़ा दीं 60 गाड़‍ियां
  यह पढ़ा क्या?
X