female teacher made physical relations with 16-year-old schoolboys, Can now be prison - अपार्टमेंट में ले जाकर 16 साल के स्टूडेंट्स के साथ महिला टीचर ने बनाए संबंध, अब होगी जेल - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अपार्टमेंट में ले जाकर 16 साल के स्टूडेंट्स के साथ महिला टीचर ने बनाए संबंध, अब होगी जेल

वहीं दूसरे पीड़ित स्टूडेंट का कहना है कि इसी साल अप्रैल में स्कूल के काम के सिलसिले में महिला टीचर से उसकी मुलाकात हुई थी।

आरोपी महिला टीचर की तस्वीर।(फोटो सोर्स- यूट्यूब)

अमेरिका के विस्कोन्सिन में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया हैं। यहां एक महिला टीचर पर दो स्टूडेंट्स के साथ संबंध बनाने के आरोप लगे हैं। दोनों स्टूडेंट्स की उम्र 16 से 17 साल बताई जा रही है। स्टूडेंट्स ने इस बात का खुलासा तब किया जब 24 वर्षीय टीचर से संबंध तोड़ना काफी मुश्किल हो गया था। यहां तक कि एक स्टूडेंट को महिला टीचर का फोन नंबर ब्लॉक तक करना पड़ा था। महिला टीचर मना करने के बाद भी स्टूडेंट्स को लगातार कॉल्स और मैसेज करती थी।

24 वर्षीय किम्बर्ले गर्सोन्दे अमेरिका के एक स्कूल में पढ़ाती थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पहले पीड़ित स्टूडेंट की मुलाकात महिला से तब हुई जब वह अपने छोटे भाई को लेने के लिए स्कूल गया था। पहली मुलाकात में टीचर ने एक स्टिकी नोट लिखकर अपना नंबर स्टूडेंट को दिया था जिसके बाद दोनों फोन पर बात करने लगे।

पहले स्टूडेंट के मुताबिक वो दोनों अक्सर महिला टीचर की कार में समय बिताते थे। रिलेशन के एक साल बाद महिला ने लड़के के साथ संबंध बनाए। लड़के ने साथ ही यह भी बताया कि महिला से रिलेशनशिप खत्म करना काफी मुश्किल हो गया था वह मना करने के बाद भी लगातार कॉल्स और मैसेज करती रहती थी।

वहीं दूसरे पीड़ित स्टूडेंट का कहना है कि इसी साल अप्रैल में स्कूल के काम के सिलसिले में महिला टीचर से उसकी मुलाकात हुई थी। मुलाकात के बाद दोनों काफी करीब आ गए थे जिसके बाद महिला टीचर ने कई बार स्टूडेंट को अपने अपार्टमेंट में ले जाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इससे पहले स्कूल प्रशासन को जब टीचर की हरकत का पता चला था तो टीचर को नौकरी से इस्तीफा देना पड़ा था। महिला टीचर पर सेक्सुअल हैरासमेंट समेत 6 आरोप लगाए गए हैं। महिला टीचर अगर पुलिस के सामने दोनों स्टूडेंट्स के साथ शारीरिक संबंध बनाने की बात कबूल करती है तो उसे जेल भी हो सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App