ताज़ा खबर
 

रेप के बाद 7 साल की बेटी को मारने से पहले कई बार नोंचा, अदालत ने बाप को सुनाई मौत की सजा

इस मामले में पुलिस को गुमराह करने के लिए लड़की के पिता ने थाने में एक एफआईआर भी दर्ज कराई थी। लेकिन उसके बच्चों ने पिता की करतूतों के बारे में पुलिस को बताया और फिर पुलिस ने जांच के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।

crime, crime news, rapeइस कांड के बाद आरोपी पिता 21 महीने से जेल में बंद था। प्रतीकात्मक तस्वीर।

पहले इस पिता ने अपनी ही बेटी के साथ रेप किया फिर उसकी हत्या से पहले उसे बुरी तरह नोंचा-खसोटा। इस हैवान बाप को अदालत ने अब सूली पर चढ़ा दिए जाने का आदेश दिया है। बाप-बेटी के रिश्ते को शर्मसार करने वाली यह खबर उत्तर प्रदेश के आगरा से जुड़ी हुई है। अदालत ने इस केस को ‘रेयररेस्ट ऑफ रेयर’ माना है।

बीते गुरुवार (19-09-2019) को आगरा की एक पॉक्सो अदालत ने 50 साल के एक युवक को मौत की सजा सुनाई है। यहां बता दें कि बीते 1 अगस्त, 2019 को पॉक्सो एक्ट में कुछ बदलाव कर इसे और भी कठोर बनाया गया था। इस एक्ट में बदलाव के बाद किसी शख्स को पहली बार अदालत की तरफ से मौत की सजा सुनाई गई है।

इससे पहले पॉक्सो एक्ट से जुड़े अदालत के स्पेशल जज वीके जायसवाल ने इस शख्स को भारतीय दंड संहिता की धारा 363 (अपहरण), 302 (हत्या), 201 (अपराध के सबूत मिटाने), 376 (रेप) और पॉक्सो एक्ट के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

प्रॉसिक्यूटर ने इस युवक को अपनी बेटी के साथ रेप करने का आरोपी बताया था। 7 साल की मासूम बच्ची के साथ हैवानियत की यह घटना 25 नवंबर 2017 को हुई थी। इस मामले में अदालत ने बच्ची के 2 नाबालिग भाइयों के बयान को फैसले का आधार बनाया। इन बच्चों ने अदालत को बताया था कि उस रात वो सभी अपनी झोपड़ी में सो रहे थे।

रात के वक्त उनकी बहन ने सीने में दर्द की शिकायत की। इसके बाद उसके पिता ने उनसे कहा कि वो उसे डॉक्टर के पास लेकर जा रहे हैं। लेकिन लड़कों के मुताबिक उसके पिता उनकी बहन को चिकित्सक के पास ले जाने के बजाए उसे पास स्थित सरकारी स्कूल के कैंपस में लेकर गए। यहां उन्होंने मासूम बच्ची के साथ रेप कर उसका दम घोंट दिया। बच्चों ने अदालत को यह भी बताया कि उसके पिता ड्रग और शराब भी पीते हैं।

इस मामले में पुलिस को गुमराह करने के लिए लड़की के पिता ने थाने में एक एफआईआर भी दर्ज कराई थी। लेकिन उसके बच्चों ने पिता की करतूतों के बारे में पुलिस को बताया और फिर पुलिस ने जांच के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के मुताबिक पीड़ित लड़की की मां का निधन किसी बीमारी की वजह से छह साल पहले हो गया था।

इसके बाद उसने कई बार अपनी बच्ची के साथ रेप की कोशिश की थी। एक बार तो इलाके के लोगों ने उसे पकड़ लिया था और फिर बाद में उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया था। बहरहाल आपको बता दें कि जब अदालत में जज ने आरोपी को सजा सुनाई तो वो अपने दोनों हाथ जोड़कर वहां खड़ा था और इस दौरान उसने एक शब्द भी नहीं बोला। (और…CRIME NEWS)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘रेप कर पैसे थमाया और बोला- घर जाओ’, 16 साल की पीड़िता के आरोप के बाद दिल्ली पुलिस का जवान गिरफ्तार
2 यूपी: जुए में जीत गए दोस्त की पत्नी, 4 लोगों ने महिला के कपड़े फाड़े और फिर…
3 UP: लोगों ने दरोगा को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, खुद को चौकी में बंद कर बचाई जान, आरोप- युवकों को फंसा रही पुलिस
ये पढ़ा क्या?
X