ताज़ा खबर
 

16 साल तक बेटी से रेप करता रहा बाप, कई बार हुई गर्भवती तो मां ने धमकी देकर चुप करा दिया

इस बात की जानकारी दोनों भाइयों और उनके कुछ रिश्तेदारों को भी है लेकिन किसी ने भी ना तो इसका विरोध किया और ना ही उनकी मदद की।

Author Published on: August 20, 2019 10:23 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

16 साल तक यह लड़की अपने पिता के हवस का शिकार बनती रही। कई बार वो गर्भवती हुई लेकिन उसकी मां ने उसे गर्भनिरोधक गोलियां दे दी और इस मामले को पूरी तरह दबा दिया। यहां तक कि जब कभी लड़की ने पिता की ज्यादतियों के खिलाफ मुंह खोलने की कोशिश की तो उसकी मां ने उसे धमकी देकर खामोश करा दिया।

लेकिन जब इस लड़की की छोटी बहन को भी उसका पिता अपनी हवस का शिकार बनाने लगा तो इस लड़की की सब्र का बांध टूट गया। पीड़िता ने तुरंत पुलिस से संपर्क किया और फिर उजागर हुई 2 बहनों के साथ मां-बाप के हैवानियत की भयानक दास्तान। यह मामला उत्तर प्रदेश के लखनऊ का है।

इस मामले में 44 साल के आऱोपी के खिलाफ पोक्सो एक्ट समेत अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। जबकि इस शख्स की 42 साल की पत्नी को अपराध छिपाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों पीड़ित बहनों का बयान मजिस्ट्रेट के सामने भी रिकॉर्ड किया गया है।

जानकारी के मुताबिक 22 साल की लड़की ने अपनी 14 साल की बहन को बचाने के लिए एक आशा ज्योति केंद्र की मदद ली। बीते 11 अगस्त को पीड़िता ने आशा ज्योति केंद्र को एक खत लिखकर अपनी और अपनी बहन को बचाने की गुहार लगाई। इसके बाद इस संस्था के सदस्यों ने पुलिस से संपर्क किया।

आशा ज्योति केंद्र की इंचार्ज अर्चना सिंह ने बताया कि पीड़िता ने उनसे कहा था कि 6 साल की उम्र से उसके पिता उसका यौन शोषण कर रहे हैं। उसकी मां यह सबकुछ जानती थी और अक्सर उसे दवाइयां और गर्भनिरोधक गोलियां देकर उसका गर्भपात करा देती थी।

पीड़िता ने संस्था के सदस्यों को बताया कि उसने यह सबकुछ इसलिए बर्दाश्त किया क्योंकि यह उसके नसीब में था लेकिन जब उसके पिता ने उसकी छोटी बहन का यौन उत्पीड़न शुरू कर दिया तब उससे यह सब बर्दाश्त नहीं हुआ।

पीड़िता की छोटी बहन ने बताया कि पिछले तीन साल से उसके पिता उस पर यौन हमले कर रहे हैं। कई बार उसकी बड़ी बहन ने उसे दुष्कर्म से बचाया है। लड़की के मुताबिक उनके घर में दो भाई किरायेदार के तौर पर रहते हैं।

इस बात की जानकारी दोनों भाइयों और उनके कुछ रिश्तेदारों को भी है लेकिन किसी ने भी ना तो इसका विरोध किया और ना ही उनकी मदद की। लड़की ने सबसे पहले यह सारी बात अपने प्रिंसिपल को बताई जिन्होंने उसे आशा ज्योति केंद्र से संपर्क करने की सलाह दी थी।

बहरहाल अब इस मामले के उजागर होने के बाद पीड़िता की नाबालिग बहन को सरकारी शेल्टर होम में रखा गया है। वहीं पुलिस आरोपियों के खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई में जुटी है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बॉयफ्रेंड के लिए 15 साल की लड़की ने रेत दिया बाप का गला, बोली- आजादी चाहिए थी
2 पति को दूसरी महिला संग देख बिफरी पत्नी, बीच बाजार चप्पल से कर दी धुनाई, कहा- कई महिलाओं को दे चुका है धोखा
3 उत्तर प्रदेश: कहासुनी हुई तो पत्नी को बेरहमी से पीटने लगा पति, फिर जबरन पिला दिया टॉयलेट क्लीनर