ताज़ा खबर
 

बेटा समलैंगिक न बन जाए, पिता ने जबरन सौतेली मां से बनवाए संबंध! पीड़ित ने सुनाई खौफनाक कहानी

डेनियल के अनुसार, तीन साल के दौरान उन्होंने ऐसा 10 से ज्यादा बार किया। हालांकि बाद में उसके पिता और उसकी सौतेली मां का ब्रेकअप हो गया। जिस वक्त डेनियल के साथ ये सब हुआ, उसकी उम्र सिर्फ 11 साल की थी।

Author November 27, 2018 2:04 PM
पीड़ित ने 17 साल बाद मामले की शिकायत पुलिस में कराकर अपने माता-पिता को सजा दिलायी है। (image ilustration by Subrata Dhar)

ब्रिटेन में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें एक व्यक्ति ने अपने बेटे को समलैंगिक बनने से रोकने के लिए उसकी सौतेली मां के साथ उसके जबरन संबंध बनवाए। उस घटना के कई साल बाद जाकर पीड़ित ने इसका खुलासा किया और पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज करायी। जिसके बाद मामले की जांच के बाद अदालत ने लड़के के पिता और उनकी पार्टनर को जेल भेज दिया है। बता दें कि दोषी पाए गए माता-पिता फिलहाल बुजुर्ग हैं और दोनों की उम्र 60 साल से ज्यादा हो चुकी है। मिरर की एक खबर के अनुसार, ब्रिटेन के सरे में रहने वाले एक युवक डेनियल डाउलिंग (38 वर्ष) ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी, जिसमें उसने अपने पिता और सौतेली मां पर करीब 17 साल पहले उसका शारीरिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था। अपनी बात के पक्ष में डेनियल ने एक टेलीफोन बातचीत की क्लिप भी पुलिस को सौंपी, जिसमें डेनियल के पिता रिचर्ड डाउलिंग ने अपना अपराध स्वीकारा था।

डेनियल ने बताया कि उसके पिता को लगता था कि उसमें समलैंगिकों वाले लक्षण हैं। जिसके चलते उन्होंने उसे समलैंगिक बनने से रोकने के लिए डेनियल की सौतेली मां और अपनी दूसरी पत्नी के साथ शारीरिक संबंध बनाने को मजबूर किया। इस दौरान डेनियल उसकी सौतेली मां और उसके पिता एक साथ शारीरिक संबंध बनाते थे। डेनियल के अनुसार, तीन साल के दौरान उन्होंने ऐसा 10 से ज्यादा बार किया। हालांकि बाद में उसके पिता और उसकी सौतेली मां का ब्रेकअप हो गया। जिस वक्त डेनियल के साथ ये सब हुआ, उसकी उम्र सिर्फ 11 साल की थी। डेनियल का आरोप है कि उसके पिता और सौतेली मां की इस हरकत ने उसका बचपन छीन लिया और उसे लंबे समय तक मानसिक तनाव झेलना पड़ा।

इसी साल मई माह में ब्रिटेन की एक अदालत ने डेनियल के पिता और सौतेली मां को दोषी ठहराते हुए उन्हें क्रमशः 5 साल और 8 साल की सजा सुनायी है। अदालत में अपना पक्ष रखते हुए डेनियल के आरोपी पिता ने कहा कि “मैं सिर्फ उसे सही दिशा में ले जाने की कोशिश कर रहा था, ताकि वह समलैंगिंक ना बन जाए। ऐसा इसलिए था क्योंकि उसमें (डेनियल) में समलैंगिकों वाले लक्षण थे।” कानून के मुताबिक अदालत ने आरोपियों की पहचान सार्वजनिक नहीं की थी। लेकिन डेनियल ने खुद अपने पिता और सौतेली मां की पहचान जाहिर कर दी है। डेनियल का कहना है कि “उसके पिता का काम उसे बचाना था, लेकिन उन्होंने उसकी मासूमियत छीन ली और उसका बचपन बर्बाद कर दिया। मैं उसे कभी नहीं भूल सकता।” बता दें कि डेनियल एक समलैंगिंक हैं और फिलहाल एक फैशन स्टोर में रिटेल मैनेजर के तौर पर नौकरी कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App