ताज़ा खबर
 

UP: मथुरा में बेरहमी से किसान की हत्या, सिर-पैर काट डाले, आंखें भी निकाल लीं

मथुरा के राधाकुंड इलाके में स्थित जंगल में सोमवार (17 जून) शाम एक बुजुर्ग का शव बरामद हुआ, जिसके सिर व पैर नहीं नहीं थे। इसके अलावा आंखें भी नहीं थीं। उसकी शिनाख्त कुंजेरा गांव निवासी हुकुम सिंह (68) के रूप में हुई।

Author मथुरा | June 18, 2019 2:45 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में एक बुजुर्ग किसान को बेरहमी से मार डालने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने किसान का सिर धारदार हथियार से अलग कर दिया। साथ ही, पैर भी काट डाले। इसके बाद किसान की आंखें भी निकाल ली गईं। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। फिलहाल किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है।

यह है मामला: मथुरा के राधाकुंड इलाके में स्थित जंगल में सोमवार (17 जून) शाम एक बुजुर्ग का शव बरामद हुआ, जिसके सिर व पैर नहीं नहीं थे। इसके अलावा आंखें भी नहीं थीं। उसकी शिनाख्त कुंजेरा गांव निवासी हुकुम सिंह (68) के रूप में हुई है। पुलिस का अनुमान है कि किसी ने धारदार हथियार से बेरहमी से हुकुम सिंह की हत्या की। इसके बाद उसके सिर व पैर काट डाले। साथ ही, आंखें भी निकाल लीं। पुलिस का मानना है कि वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने मृतक के सिर, पैर व आंखें कहीं और फेंक दिए होंगे।

National Hindi News, 18 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

पुलिस ने शुरू की मामले की जांच: एसएसपी शलभ माथुर ने मंगलवार को ने बताया, ‘‘शव की हालत देखकर लगता था कि उसकी नृशंस हत्या की गई है। इस मामले की जांच की जा रही है। उम्मीद है कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।’’

Bihar News Today, 18 June 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

परिजनों ने रंजिश से किया इनकार: कुंजेरा गांव के पूर्व प्रधान मोहनी प्रसाद और मृतक के भाई हरप्रसाद का कहना है कि हुकुम सिंह काफी सीधा इंसान था। उसका किसी से कोई विवाद भी नहीं था। वह खुद को सिर्फ खेती-बाड़ी और पशुओं की देखभाल तक ही सीमित रखता था।

लोगों ने किया हंगामा: किसान की नृशंस हत्या की खबर फैलने पर ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। वे सोमवार रात करीब 10 बजे राधाकुंड पुलिस चौकी पहुंचे और तोड़फोड़ व पथराव किया। उत्तेजित भीड़ को देख कर थाने से और पुलिस बल बुलवाया गया। एसएसपी ने बताया, ‘‘कानून हाथ में लेने की इजाजत किसी को भी नहीं दी जा सकती। पुलिस चौकी पर बवाल करने वालों को चिह्नित किया जा रहा है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App