ताज़ा खबर
 

पत्रकार खशोगी को कई टुकड़ों में काटा! 2 साल बाद बेटे ने कहा-हत्यारे को माफ किया पर मंगेतर का ऐलान- सजा दिला कर रहूंगी

इस हत्याकांड के बाद अंतरराष्ट्रीय मीडिया में खलबली मच गई थी। हत्या के लिए सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को दोषी माना जा रहा था और कहा जा रहा था कि खशोगी की हत्या उनके इशारे पर ही हुई थी।

जमाल खशोगी की मंगेतर ने कहा कि माफी देने का हक किसी को नहीं है। फाइल फोटो

इस्तानबुल में सऊदी दूतावास के अंदर जाने-माने पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के 2 साल बाद अब उनके बेटे ने हत्यारों को माफ कर देने की बात कही है। खशोगी के बेटे सालेह खशोगी ने शुक्रवार को एक ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। सालेह ने ट्वीट करके कहा, ‘ हम शहीद जमाल खशोगी के पुत्र यह घोषणा करते हैं कि हम उन लोगों को माफ करते हैं जिन्होंने हमारे पिता को मार डाला।’

लेकिन खशोगी के बेटे की बातों से अलग अब उनकी मंगेतर ने ऐलान किया है कि वो किसी भी सूरत में हत्यारों को सजा दिलाकर रहेंगी। खशोगी की मंगेतर Hatice Cengiz ने ट्वीट कर कहा कि ‘उनका बेरहमी से कत्ल किया गया था माफी देने का अधिकार किसी को नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं और दूसरे लोग तब तक नहीं रुकेंगे जब तक न्याय नहीं मिलेगा। #JusticeForJamal अभियान जारी रहेगा।’

खशोगी को आखिरी बार इस्तांबुल में 2 अक्टूबर, 2018 को सऊदी वाणिज्य दूतावास में देखा गया था, जहां वह अपने शादी के लिए दस्तावेज लेने गए थे। यहां उनकी हत्या हो गई थी। उनके अवशेष आजतक नहीं मिले। उस वक्त खशोगी अपनी मंगेतर के साथ दूतावास पहुंचे थे।

उनकी मंगेतर बाहर खड़ी होकर उनका इंतजार कर रही थीं लेकिन खशोगी कभी नहीं लौटे। कहा जाता है कि खशोगी की दम घोंटने कर हत्या की गई थी। इतना ही नहीं हत्या के बाद उनके कई टुकड़े किये गये थे और फिर इन टुकड़ों को समंदर में फेंक दिया गया था।

इस हत्याकांड के बाद अंतरराष्ट्रीय मीडिया में खलबली मच गई थी। हत्या के लिए सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को दोषी माना जा रहा था और कहा जा रहा था कि खशोगी की हत्या उनके इशारे पर ही हुई थी। हालांकि सऊदी अऱब इस बात से मुकरता रहा है।

साल 2019 में PBS Documentary के प्रीव्यू को देखने के बाद यह बात सामने आई थी कि इस डॉक्यूमेंट्री में प्रिंस मार्टिन स्मिथ से कहते हैं कि ‘यह मेरी निगरानी में हुआ…मैं इसकी पूरी तरह से जिम्मेदारी लेता हूं…क्योंकि यह मेरी निगरानी में हुआ।’

जमाल खशोगी की हत्या का आरोप 11 लोगों पर लगा है। इस मामले में 5 लोगों को फांसी की सजा सुनाई गई है। हालांकि उनकी मंगेतर हतीचे चेंगीज ने पांच लोगों को मौत की सजा सुनाए जाने को अनुचित और अमान्य करार दिया है।

उन्होंने कहा था कि इन लोगों को मौत की सजा हो जाने से सच दुनिया के सामने नहीं आ पाएगा। उन्होंने कहा था कि ‘सुनवाई बंद दरवाजों के पीछे हुई है. हत्या का आदेश किसने दिया? आरोपियों को खुले तौर पर बोलने क्यों नहीं दिया गया? जैसे कई ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब नहीं मिल पाएंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तेलंगाना का खौफनाक कुंआ! 9 प्रवासियों की लाश मिलने से हड़कंप, सुसाइड की आशंका
2 Covid-19, Lockdown 4.0: चेक पोस्ट पर तैनात जवान पर महिला से रेप का आरोप, लोगों ने आरोपी को पीट कर पुलिस के हवाले किया
3 कोरोना की वजह से पैरोल पर छूटा था, कब्र से नाबालिग की लाश निकाल रेप करते रंगेहाथ धराया अधेड़