ताज़ा खबर
 

परिवार को मिले बीमे का पैसा इसलिए फाइनेंसर ने करवाई खुद की हत्या, जानें क्या है पूरा मामला?

भीलवाड़ा के पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर ने बताया कि फाइनेंसर मृतक बलबीर खारोल ने अपनी हत्या करवाने की साजिश रची ताकि उसके परिवार वालों को बीमा की राशि मिल जाये। उसने राजवीर सिंह और सुनील यादव को 80 हजार रुपए में अपनी हत्या करने की सुपारी दी थी।

Author भीलवाड़ा | Published on: September 10, 2019 10:18 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस

राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के मंगरोप थाना क्षेत्र में आर्थिक तंगी से परेशान एक फाइनेंसर के खुद की हत्या करवाने का मामला प्रकाश में आया है।पुलिस के अनुसार फाइनेंसर ने यह कदम इसलिए उठाया ताकि बीमा के 50 लाख रुपए परिवार को मिल जाए। हत्या के आरोप में गिरफ्तार दो व्यक्तियों ने पुलिस को यह जानकारी दी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बताया 38 वर्षीय बलबीर खारोल ने कई लोगों को कुल 20 लाख रुपये उधार दिये थे। उधार दी गई रकम वह वसूल नहीं कर पा रहा था और पिछले छह महीनों से ब्याज और मूल रकम नहीं मिलने से वह परेशान था। उन्होंने बताया कि खारोल ने पिछले महीने एक निजी बैंक से खुद का 50 लाख रुपए का बीमा करवाया था और पहली किस्त चुका दी थी। भीलवाड़ा के पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर ने बताया कि फाइनेंसर मृतक बलबीर खारोल ने अपनी हत्या करवाने की साजिश रची ताकि उसके परिवार वालों को बीमा की राशि मिल जाये। उसने राजवीर सिंह और सुनील यादव को 80 हजार रुपए में अपनी हत्या करने की सुपारी दी थी।

National Hindi Khabar, 10 September 2019 LIVE News Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

उन्होंने बताया कि आरोपियों ने दो सितम्बर की रात मंगरोप पुलिस थाना क्षेत्र में गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने खारोल के मोबाइल की कॉल डिटेल और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस अधीक्षक ने ‘पीटीआई-भाषा’को बताया कि जांच के दौरान पता चला कि बलबीर ने दोनों आरोपियों को उसकी हत्या करने को कहा था ताकि परिजनों को बीमा की राशि मिल सके।

उन्होंने बताया कि शुरू में बलबीर दुर्घटना के जरिये खुदकुशी का विचार कर रहा था, लेकिन उसे डर था कि दुर्घटना में उसकी मौत होगी या नहीं, जिसके बाद उसने स्वयं की हत्या करवाने की साजिश रची। उन्होंने आगे बताया कि योजना के मुताबिक बलबीर ने खुद की हत्या के लिये दो सितम्बर को 10 हजार रुपये अग्रिम पेशगी दी और शेष रकम अपनी जेब में रख ली। बलबीर दोनों आरोपियों के साथ एक सुनसान इलाके में गया और अपने दोनों पैर एक रस्सी से बांध लिया। सुनील ने उसके दोनों हाथ बांध दिये और राजवीर ने उसका गला घोट दिया। महावर ने कहा कि हत्या के आरोपियों ने पूछताछ में जो बताया है वह बेहद असामान्य बात है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश: छात्र का अपहरण कर मांगी 10 लाख की फिरौती, पुलिस ने किया मामला दर्ज
2 महाराष्ट्र: सेना का अफसर बन टू-व्हीलर बेचने के लिए ऑनलाइन दिया विज्ञापन, फिर ठग लिए 67 हजार रुपए
3 VIDEO: बुर्का पहन कॉलेज आई लड़कियां तो छड़ी से डराकर भगाने लगे प्रिंसिपल, मचा बवाल