ताज़ा खबर
 

गुजरात में ED की बड़ी कार्रवाई, मनी लांड्रिंग कानून के तहत 34 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क; कंपनी पर 250 करोड़ के हेरफेर का आरोप

ED Raid in Gujarat: ईडी के अधिकारियों ने कहा कि जांच में आरोपियों के द्वारा 2007 से 2009 के दौरान फर्जी बिलों और रसीदों के जरिये करीब 250 करोड़ रुपये का हेर-फेर करने का पता चला है।

Author अहमदाबाद | Updated: December 7, 2019 3:36 PM
ईडी- प्रतीकात्मक चित्र

ED Raid in Gujarat: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लांड्रिंग रोकथाम कानून के तहत गुजरात की एक कंपनी की 34 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क की है। ईडी ने शनिवार (7 दिसंबर) को इसकी जानकारी दी। ED ने बयान में कहा कि बायोटोर इंडस्ट्रीज लिमिटेड और उसके प्रबंध निदेशक राजेश एम. कपाड़िया तथा अन्य के खिलाफ जांच की जा रही है। इनके खिलाफ गुजरात पुलिस और सीबीआई की भी जांच जारी है।

ED का बयान: ईडी के अधिकारियों ने कहा कि जांच में आरोपियों के द्वारा 2007 से 2009 के दौरान फर्जी बिलों और रसीदों के जरिये करीब 250 करोड़ रुपये का हेर-फेर करने का पता चला है। ईडी के मुताबिक, ‘‘केजीएन ग्रुप ऑफ कंपनीज के मालिक आरिफ इस्माइलभाई मेमन ने राजेश कपाड़िया एवं अन्य के साथ सांठगांठ कर लेन-देन की हेराफेरी में बड़ी भूमिका निभायी।’’ मेमन ने फर्जीवाड़े के तरीकों के जरिये करीब 62 करोड़ रुपये केजीएन ग्रुप ऑफ़ कंपनीज के खातों में जमा किया।

संपत्ति कुर्क: ईडी ने मनी लांड्रिंग रोकथाम अधिनियम के प्रावधानों के तहत केजीएन एंटरप्राइजेज लिमिटेड और सैलानी एग्रोटेक इंडस्ट्रीज लिमिटेड की गुजरात के खेड़ा जिले के हरियाला गांव में स्थित जमीन, संयंत्र व मशीनें तथा अहमदाबाद के पाल्दी में स्थित मेमन की आवासीय संपत्ति को कुर्क किया।

कितनी है कीमत: बताया जा रहा है कि ईडी द्वारा कुर्क संपत्तियों का कुल मूल्य 34.47 करोड़ रुपये है। ईडी इस मामले में पहले भी 149 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क कर चुका है। बता दें कि हाल के समय ईडी ने देश के कई हिस्सों में छापेमारी की है। जिसमें करोड़ों की संपत्ति जब्त की गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 UPPCL Scam: पीएफ घोटाला में बड़ी कार्रवाई, सात और लोग गिरफ्तार; इन लोगों पर गिरी गाज
2 झारखंड चुनाव: दूसरे चरण के मतदान में हिंसा, सुरक्षा बलों की फायरिंग में एक की मौत, मचा हड़कंप
3 Unnao Case को लेकर UP में बवाल, धरने पर बैठे अखिलेश यादव; मृतका के परिजनों से मिलीं प्रियंका गांधी
ये पढ़ा क्या?
X