ताज़ा खबर
 

ट्रंप ने कहा- खशोगी की हत्या के बाद मैंने मोहम्मद बिन सलमान को बचाया, पत्रकार की किताब में दावा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं है कि मोहम्मद बिन सलमान ने खशोगी की हत्या के आदेश दिये थे। हालांकि यूएस और अन्य विदेशी जांच एजेंसियों ने पहले यह दावा किया था कि सऊदी प्रिंस ने ही खशोगी की हत्या का हुक्म दिया था।

डोनल्ड ट्रंप ने यह भी कहा कि उन्हें यकीन नहीं कि सऊदी प्रिंस ने खशोगी की हत्या का हुक्म दिया था।

राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा है कि पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के बाद उन्होंने ही सऊदी के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को बचाया था। पत्रकार Bob Woodward ने अपनी किताब में इस बात का दावा किया है। ‘Business Insider’ ने Bob Woodward की किताब के हवाले से लिखा कि अक्टूबर, 2018 में खशोगी की हत्या के बाद ट्रंप ने कहा कि ‘मैंने कांग्रेस से मोहम्मद बिन सलमान को बचाया..मैं कांग्रेस को रोक पाने में कामयाब हो सका…मैंने कांग्रेस से मोहम्मद बिन सलमान का पीछा छुड़ाया था।’

वॉशिंगट्न पोस्ट में ओपिनियन कॉलमिस्ट जमाल खशोगी यूएस में रहते थे। साल 2018 में वो अपनी मंगेतर Hatice Cengiz के साथ इस्तानबुल में स्थित सऊदी अऱब के दूतावास पहुंचे थे। मंगेतर से शादी करने को लेकर वो कुछ कागजात लेने के लिए दूतावास के अंदर गए थे जबकि उनकी मंगेतर बाहर ही खड़ी थीं। बताया जाता है कि दूतावास के अंदर ही 59 साल के खशोगी की निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई थी।

अब Bob Woodward ने अपनी किताब के जरिए दावा किया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं है कि मोहम्मद बिन सलमान ने खशोगी की हत्या के आदेश दिये थे। हालांकि यूएस और अन्य विदेशी जांच एजेंसियों ने पहले यह दावा किया था कि सऊदी प्रिंस ने ही खशोगी की हत्या का हुक्म दिया था। बताया जा रहा है कि Bob Woodward की किताब ‘Rage’ 15 सितंबर को आने वाली है। इस किताब के लिए Bob Woodward ने ट्रंप के 18 इंटरव्यू लिये।

ट्रंप के मुताबिक खशोगी की हत्या से अमेरिका के दोनों राजनीतिक दलों में गुस्सा था। आपको बता दें कि ट्रंप ने कांग्रेस को दरकिनार करते हुए 8 अरब डॉलर में सऊदी अरब और यूएई को आधुनिक हथियार और मिसाइलें बेचीं। ट्रंप ने कांग्रेस की ओर से पारित किए गए तीन प्रस्तावों पर वीटो किया। एक प्रस्ताव में ट्रंप को सऊदी को हथियार बेचने को लेकर फटकार लगाई गई थी। इसके अलावा, यमन में सऊदी-यूएई नीत युद्ध में अमेरिकी सैन्य मदद रोकने के लिए भी कांग्रेस ने प्रस्ताव पास किया था।

Next Stories
1 ‘साजिद खान ने गंदी बातें कीं और छूने की कोशिश की’, मशहूर निर्माता पर मॉडल ने लगाए संगीन आरोप
2 चीनी राजदूत के ट्विटर हैंडल से अश्लील क्लिप को किया गया लाइक, बीजिंग ने कहा- हैक हुआ; जांच शुरू
3 ड्रग्स के सबसे बड़े कारोबारी का खुलासा! ‘मुझे है महिलाओं का नशा 23 बच्चों का पिता हूं’
यह पढ़ा क्या?
X