ताज़ा खबर
 

Delhi: बैंक में पैसे जमा कराने में मदद का देते थे झांसा, फिर करते थे ठगी; गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने ठगी के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी लोगों के बैंक अकाउंट में पैसे जमा कराने के बहाने लोगों से नकद पैसे ठगते थे।

Author नई दिल्ली | July 13, 2019 1:26 PM
प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- जनसत्ता

दिल्ली पुलिस ने दो ठगों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों बैंक खाते में रकम जमा कराने में मदद के बहाने से लोगों से नकदी ठगते थे। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की पहचान जितेंदर महतो (32) और बच्चा लाल कुमार (19) के रूप में की गई है। दोनों बिहार के पश्चिमी चंपारन जिले के एक ही गांव के रहने वाले हैं।

पुलिस ने किया मामला दर्जः पुलिस उपायुक्त (दक्षिणपूर्व) चिन्मय बिस्वाल ने बताया, ‘‘भोगल में एक बैंक की शाखा में लोगों को एक बार फिर निशाना बनाकर वापस लौट रहे दोनों लोगों को 4 जुलाई (गुरुवार) को करीब दोपहर दो बजे गिरफ्तार किया गया।’’ पुलिस ने बताया कि इस संबंध में सात जून (शुक्रवार) को शिकायत दर्ज की गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब भी कोई कस्टमर कैश डिपॉजिट मशीन में पैसे जमा करने जाता था, जितेंद्र और बच्चा उस शख्स के पास जाते और उसकी मदद करने के बहाने घटना को अंजाम देते थे। वे कस्टमर को सबसे पहले मशीन में पैसे डालने को कहते थे इसके बाद चुपके से ऐड ऑन का बटन दबा देते थे। इसके बाद वह पीड़ित को पैसा जमा होने की बात कहकर उसके जाते ही मशीन में कैंसल बटन दबा देते थे। इससे पैसे का ट्रांजेक्शन रुक जाती थी और इस दौरान वे मशीन से पैसा निकालकर फरार हो जाते थे।

National Hindi News 13 July 2019 LIVE Updates: दिन भर की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

जानकारी के मुताबिक इस तरह से ये आरोपी कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। इससे पहले राजस्थान के टोंक में ऑनलाइन ठगी का एक मामला सामने आया था। आरोपी ने फोन के जरिए बैंक की जानकारी लेकर 65 रुपए की ऑनलाइन ठगी कर अपने खाते में पैसे ट्रांसफर करवाए। थाना प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी ने रघुवीर चावला नाम के एक शख्स को फोन मिलाया और कहा कि उनका बैंक अकाउंट बंद हो गया है। इसके बाद आरोपी ने पीड़ित से उसके बैंक अकाउंट से संबंधित जानकारियां मांगी। बैंक अकाउंट की जानकारी मिलने के बाद आरोपी ने रघुवीर के खाते से दो बार में पैसे निकाले। इसके बाद रघुवीर के फोन पर जब अकाउंट से पैसे निकलने का मैसेज आया तो उन्हें शक हुआ। उन्होंने तुरंत इस बारे में जानकारी के लिए बैंक शाखा में फोन लगाया जहां उन्हें पता चला कि बैंक कर्मचारियों की तरफ से उन्हें कोई फोन नहीं किया गया। अपने साथ हुई धोखाधड़ी का अहसास होने के बाद पीड़ित रघुवीर ने आरोपी के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवाया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App