ताज़ा खबर
 

मंगोलपुरी में मर्डरः राम भक्त होने की वजह से ली गई रिंकू की जान? गुत्थी उलझी, पर पांचवां आरोपी भी अरेस्ट

विश्व हिंदू परिषद् ने दावा किया है कि रिंकू अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए डोनेशन जुटा रहा था। वो एक राम भक्त था और मंदिर के लिए फंड जुटाने की वजह से ही उसकी हत्या हुई है।

फोटो सोर्स- सोशल मीडिया/फाइल

दिल्ली के मंगोलपुरी में 25 साल के युवक रिंकू की चाकू से गोद कर हुई हत्या का रहस्य गहराता जा रहा है। रिकू शर्मा के बारे में बताया जा रहा है कि वो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के युवा मोर्चा और विश्व हिंदू परिषद् के कार्यकर्ता थे। रिंकू ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। रिंकू की मौत को लेकर पुलिस और आरएसएस के अलग-अलग बयान ने इस मौत की गुत्थी को उलझा कर रख दिया है।

5 आरोपी धराए: यहां सबसे पहले आपको बता दें कि इस हत्याकांड में अब तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिन पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनमें नसरुद्दीन, इस्लाम, जाहिद, महताब और तसुद्दीन शामिल हैं।

पुलिस ने किया यह दावा: एडिशनल डीसीपी (बाहरी दिल्ली), एस धामा, का कहना है कि जांच में पता चला है कि जन्मदिन की पार्टी के दौरान रेस्टुरेंट बंद करने को लेकर इन सभी की आपस में लड़ाई हुई थी। यह सभी एक-दूसरे को जानते थे और एक ही इलाके में रहते भी थे। आपस में झगड़ा बढ़ने के बाद रिंकू की हत्या कर दी गई। इस मामले में मंगोलपुरी पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया है। पुलिस ने इस हत्याकांड में किसी भी धार्मिक एंगल से इनकार किया है।

परिवार ने कहा- धर्म पर कमेंट किया: इधर मृतक रिंकू के परिवार वालों का दावा है कि रिंकू का नसरुद्दीन के साथ कुछ दिनों पहले झगड़ा हुआ था। नसरुद्दीन उनके घर के पास ही रहता था। परिजनों के मुताबिक यह विवाद धर्म को लेकर किये गये कमेंट के बाद हुआ था। बुधवार की रात नसरुद्दीन और चार अन्य आरोपियों ने रिंकू को रास्ते में रोका और फिर उसपर चाकू से हमला किया।

RSS ने किया यह दावा: विश्व हिंदू परिषद् ने दावा किया है कि रिंकू अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए डोनेशन जुटा रहा था। वो एक राम भक्त था और मंदिर के लिए फंड जुटाने की वजह से ही उसकी हत्या हुई है। आरएसएस के संयुक्त सचिव सुरेंद्र जैन ने इस मामले में आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

केजरीवाल पर निशाना: दिल्ली बीजेपी के प्रमुख आदेश गुप्ता ने राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा है कि यह घटना बेहद दुखद है। जो लोग राजनीति के लिए उत्तर प्रदेश औऱ पश्चिम बंगाल चले जाते हैं निश्चित तौर पर आज उनपर प्रश्न खड़ा हो गया है, दिल्ली की जनता पूछ रही है कि ऐसा क्यो? इस मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई होनी चाहिए। दिल्ली सरकार मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान करे।

[ie_dailtioymon id=x7z7mff]

बहरहाल आपको बता दें कि रिंकू के भाई ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि उनके पास कोई रेस्टुरेंट नहीं है। मृतक के भाई ने आरोप लगाया है कि पिछले साल 5 अगस्त को भी मंदिर के लिए चंदा मांगने के लिए जाने पर उन लोगों ने उनसके मारपीट की थी।

Next Stories
1 वाराणसी: कॉलेज के क्लासरूम में मिले नरकंकाल का रहस्य गहराया, फॉरेंसिक टीम की जांच के बाद भी कई सवाल अनसुलझे
2 सनी लियोनी के शूट पर पहुंचे गुंडे, अभिनेत्री को भगाना पड़ा; निर्देशक से मांगे 38 लाख रुपए
3 18 साल की TikTok Star ने VIDEO अपलोड कर लिखा- फाइनल पोस्ट, आत्महत्या के बाद मची सनसनी
ये पढ़ा क्या?
X