दिल्ली पुलिस की नई ‘लेडी सिंघम’, SI प्रियंका ने गोली लगने के बावजूद 2 अपराधियों से लिया लोहा…

बताया जा रहा है कि रोहित चौधरी अपने सहयोगी के साथ अपनी कार से घूम रहा था। इसी दौरान यह टीम उसे पकड़ने के लिए रवाना हुई।

crime, crime news
गोली लगने के बावजूद प्रिया अपराधियों से लोहा लेती रहीं। फोटो सोर्स – सोशल मीडिया

दिल्ली पुलिस की नई ‘लेडी सिंघम’ की अभी सभी चर्चा कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि अपराधियों की गोली इस ‘लेडी सिंघम’ को लगी फिर भी वो फर्ज से पीछे नहीं हटीं और इन अपराधियों को दबोच कर ही सांस लिया। दिल्ली की क्राइम ब्रांच की टीम ने 2 मोस्ट वांटेड क्रिमिनल्स रोहित चौधरी और टिटू को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने इन दोनों को एक एनकाउंटर के बाद दबोचा है। यह भी बताया जा रहा है कि यह दोनों कुख्यात MACOCA केस में वांटेड थे।

बताया जा रहा है कि गुरुवार (24-03-2021) को डीसीपी (क्राइम ब्रांच), भीष्म सिंह की टीम को खबर मिली थी कि मोस्ट वांटेड रोहित औऱ टिट्टू Bhairon Road की तरफ आ रहे हैं। यह दोनों अपने गैंग के सदस्यों से मिलने के लिए यहां आए थे।

इन दोनों अपराधियों को पकड़ने की जिम्मेदारी एसीपी (एसटीएफ) पंकज और उनकी टीम को दी गई। इस टीम को महिला सब-इंस्पेक्टर प्रियंका शर्मा ने भी ज्वायन किया। कहा जा रहा है कि यह पहला मौका है जब किसी महिला सब इंस्पेक्टर ने इस तरह वांटेड क्रिमिनिल्स के साथ एनकाउंटर में हिस्सा लिया और उन्हें पकड़ लिया।

बताया जा रहा है कि रोहित चौधरी अपने सहयोगी के साथ अपनी कार से घूम रहा था। इसी दौरान यह टीम उसे पकड़ने के लिए रवाना हुई। बताया जा रहा है कि पुलिस के मुताबिक उनकी कार पर नजर पड़ते ही उन्हें रुकने का इशारा किया गया। इस दौरान अपराधियों ने बैरिकेड तोड़ कर भागने का प्रयास नहीं किया बल्कि पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी।

इसके बाद पुलिस ने अपराधियों पर भी काउंटर अटैक किया। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक अपराधियों की एक गोली सब इंस्पेक्टर प्रियंका शर्मा को लगी। प्रियंका शर्मा ने बुलेटप्रूफ जैकेट पहनी थी इसलिए वो बच गईं। इसी दौरान एसीपी पकंज भी अपराधियों की गोलीबारी में बाल-बाल बचे। इसके बाद रोहित के पांव में एक गोली लगी और फिर दोनों अपराधी पकड़े गए।

घायल अपराधियों को आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि गैंगस्टर रोहित चौधरी पर 4 लाख रुपए का इनाम घोषित था जबकि उसके सहयोगी टिट्टू पर 2 लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया था। यह दोनों, हत्या, हत्या की कोशिश और लूटपाट के मामलों में वांछित थे।x803ow3

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
किसान आंदोलन का समर्थन करने पहुंचा बेटा, रिटायर्ड फौजी ने संपत्ति से कर दिया बेदखल, देशद्रोही करार दियाfarmer movement
अपडेट
X