ताज़ा खबर
 

दिल्ली के पीतमपुरा में स्टूडेंट ने फोन का पासवर्ड बताने से किया इनकार तो दोस्त ने कर दी हत्या

दिल्ली के पीतमपुरा में फोन का पासवर्ड न बताने पर दोस्त ने छात्र की हत्या कर दी। इस जुर्म को अंजाम देने के बाद आरोपी उत्तर प्रदेश भाग गया था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसे वहां से गिरफ्तार कर लिया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है (Photo- Indian Express)

दिल्ली के पीतमपुरा में फोन का पासवर्ड न बताने पर दोस्त ने एक छात्र की हत्या कर दी। मृतक छात्र कक्षा 12वीं में पढ़ता था और उसका दोस्त 20 साल का है जो नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में रहता है। उसने छात्र से iPhone का पासवर्ड पूछा था, लेकिन उसने बताने से इनकार कर दिया था। इस बात से वह काफी नाराज हो गया था, जिसके बाद उसने छात्र की हत्या कर दी।

ये घटना पीतमपुरा के एक पार्क की है और यहां दोनों ने मिलने का प्लान बनाया था। आरोपी की पहचान मयंक सिंह के रूप में हुई है और वह दिल्ली के रोहिणी के महाराजा अग्रसेन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज से बीबीए की पढ़ाई कर रहा है। हत्याकांड को अंजाम देने के बाद वह दिल्ली से फरार हो गया था और दिल्ली पुलिस ने उसे उत्तर प्रदेश पिलखुवा से गिरफ्तार कर लिया है।

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, पीड़ित के पिता एक फैक्ट्री चलाते हैं और उनका बेटा कई दिनों से घर नहीं आया था। उन्होंने आस-पास के लोगों से भी इस बारे में पूछा था कहीं से कोई जानकारी न मिलने के बाद उन्होंने अपने बेटे की गुमशुदगी की शिकायत स्थानीय पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई थी। उनका बेटा 21 अप्रैल की सुबह घर से गया था, लेकिन वापस नहीं लौटा जिसके बाद से परिवार काफी परेशान था।

दिल्ली पुलिस को पीतमपुरा पार्क की सुनसान जगह पर एक शव मिलने की सूचना मिलती है। शव के पास एक बहुत बड़े साइज का टेडी बीयर भी मिलता है। पुलिस को मौके से ड्रग्स भी मिलते हैं। ऐसे में पुलिस के सामने हत्यारे का पता लगाना बहुत जरूरी हो जाता है। पुलिस मामले की जांच शुरू करती है, करीब 100 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे खंगाले जाते हैं और पीड़ित की पहचान कैमरे में होती है। पीड़ित के साथ उसका दोस्त भी नजर आता है।

Next Stories
1 CM योगी से संबंधित फर्जी क्लिप शेयर करने पर दो लोगों को UP पुलिस ने किया गिरफ्तार, पूर्व IAS सूर्य प्रताप सिंह पर भी हो चुकी है FIR
2 दो बार असफल होने पर छोेड़ दी थी UPSC की तैयारी, परिवार के सपोर्ट के बाद दोबारा शुरू की पढ़ाई और आज हैं IAS राघव जैन
3 ‘UPSC क्लियर करने के लिए कोचिंग की नहीं होती जरूरत’ IAS अधिकारी सर्जना यादव ने बताया तैयारी का तरीका
ये पढ़ा क्या?
X