ताज़ा खबर
 

दिल्ली: प्रेमिका की हत्या कर शव को बेड के बक्से में डाल फरार हुआ, 4 राज्यों को क्रॉस कर पहुंचा गया असम और फिर…

पुलिस ने बताया कि उसने अपने एक दोस्त की मोटरसाइकिल लेकर सड़क के रास्ते आगरा और फिर लखनऊ पहुंचा। उसने 600 किलोमीटर की यात्रा स्कूटर से की।

delhi, assam, murderबिस्तर के नीचे 8 दिनों तक डेड बॉडी पड़ी रही। प्रतीकात्मक तस्वीर।

दिल्ली के कुतुब विहार इलाके में पुलिस ने 26 साल की एक महिला का शव बिस्तर में बने बक्से के अंदर से बरामद किया है। बताया जा रहा है कि करीब 8 दिनों से बक्से के अंदर शव पड़ा हुआ था और डेड बॉडी की हालत काफी खराब भी हो चुकी थी। घर के अंदर से बदबू आने पर आसपास के लोगों ने पुलिस से इसकी शिकायत की थी जिसके बाद पुलिस ने महिला की डेड बॉडी बरामद की थी। शनिवार को पुलिस ने बताया है कि इस मामले में महिला के एक दोस्त को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का कहना है कि लड़ाई के दौरान महिला की हत्या कर दी गई।

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए आरोपी सतीश कुमार को शक था कि महिला उसके साथ धोखेबाजी कर रही है। बीते 23 सितंबर को इन दोनों के बीच इस बात को लेकर झगड़ा हुआ और फिर सतीश ने महिला की हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि सतीश ने जब महिला पर हमला किया तब वो बेहोश हो गईं। इसके बाद उसने उनका मुंह ढ़क दिया औऱ दम घुटने से उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि सतीश यहां किराये के मकान में रहता था।

पुलिस ने बताया कि हत्याकांड को अंजाम देने के बाद सतीश भाग गया। उसने 4 राज्यों के बॉर्डर को क्रॉस किया, कई वाहन बदले और फिर असम पहुंच गया। पुलिस ने गुरुवार को असम के डिब्रूगढ़ से उसे पकड़ा है। पुलिस ने यह भी जानकारी दी है कि महिला की हत्या करने के बाद उसने उसकी डेड बॉडी को बिस्तर में बने बक्से में डाल दिया। वो अपने एक दोस्त की मोटरसाइकिल लेकर सड़क के रास्ते आगरा और फिर लखनऊ पहुंचा। उसने 600 किलोमीटर की यात्रा स्कूटर से की।

संतोष कुमार ने आलमबाग बस स्टैंड के पास अपनी स्कूटर पार्क कर दी। इसके बाद उसने बस लिया और गोरखपुर चला गया। गोरखपुर से वो बिहार के मुजफ्फरपुर में पहुंचा और फिर वहां से पश्चिम बंगाल चला गया। इसके बाद वो असम के मोराना में गया और फिर वहां से डिब्रूगढ़ पहुंचा।

पुलिस ने उसे उस वक्त दबोचा जब वो शिलॉन्ग जाने की तैयारी में था और उसने 9,000 रुपए में एक टैक्सी बुक की थी। द्वारका के डिप्टी कमिश्नर संतोष कुमार मीणा ने इस बात की जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि संतोष पकड़े जाने के डर से बार-बार अपना लोकेशन बदल रहा था।

बताया जा रहा है कि यह दोनों गुरुग्राम के एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहे थे और दोनों काफी दिनों से रिलेशनशिप में थे। साल 2017 में सतीश कुमार ने अपने परिवार वालों की मर्जी के मुताबिक एक दूसरी महिला से शादी रचाई थी। मूल रूप से जिंद के रहने वाले संतोष कुमार को एक बेटी भी है लेकिन वो अपनी पत्नी और बेटी को छोड़कर इस महिला के साथ ही रिलेशनशिप में था।

कुछ हफ्ते पहले ही संतोष को शक हो गया था कि उसकी प्रेमिका का किसी अन्य युवक से अवैध संबंध है। यह महिला साउथ दिल्ली के खिड़की एक्सटेंशन में रहती थी। 23 सितंबर को वो संतोष के घर अपना लैपटॉप लेने गई थी। इस दौरान महिला के फोन की घंटी लगातार बज रही थी और संतोष इस बात से बेहद खफा हो गया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच बहस शुरू हो गई और फिर संतोष ने महिला की हत्या कर दी। उसने एक कंबल से महिला के शव को ढक कर बेड के नीचे डाल दिया और फरार हो गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हरियाणा: ‘6 महीने तक पिता ने किया दुष्कर्म और मारपीट’, गर्भवती बेटी ने थाने में दर्ज कराई शिकायत
2 बॉयफ्रेंड की हत्या कर पिता से कर ली शादी, युवती को 40 साल जेल की हुई सजा
3 ‘भाई ने कई सालों तक किया रेप और कैंसर होने की बात कहकर बहलाता रहा’, बहन ने सुनाई आपबीती
IPL Records
X