ताज़ा खबर
 

मेमन इकबाल कैसे बन गया इकबाल मिर्ची? दाऊद के सबसे करीबी का ‘मुगल-ए-आजम’ से था यह कनेक्शन…

कहा जाता है कि 1990 के दशक में मिर्ची के पास मुंबई में 25 करोड़ से ज्यादा की संपत्तियां थीं। इनमें से ज्यादातर को पुलिस ने जब्त करा लिया था

फाइल फोटो।

इकबाल मिर्ची का असली नाम मेमन इकबाल मोहम्मद था। मेमन इकबाल के नाम के आगे मिर्ची लगने की भी एक कहानी है। दरअसल मुंबई के नल बाजार में उसकी मसालों और लाल मिर्ची पाउडर की दुकान थी। जिसके बाद धीरे-धीरे उसे इकबाल मिर्ची के नाम से जाना जाने लगा। इकबाल मोहम्मद के बारे में कहा जाता है कि वो साल 1980 में दाऊद इब्राहिम के संपर्क में आया फिर उसी के इशारे में उसने ड्रग्स की तस्करी शुरू कर दी। 80 के दशक के मध्य में इकबाल मेमन मादक पदार्थों की तस्करी का बड़ा नाम बन गया। इस दौरान वो धीरे-धीरे दाऊद इब्राहिम का दाहिना हाथ बन गया।

1993 में मुंबई ब्लास्ट के बाद इकबाल मिर्ची भारत से फरार हो गया। दुबई जाने के बाद उसने वहां ऐक्ट्रेस हिना कौसर से निकाह की। उसके बाद से वह लंदन में ही रह रहा था और ड्रग्स के नेटवर्क को संचालित कर रहा था। वहां उसने खुद को चावल व्यापारी के तौर पर स्थापित किया था। मेमन हिंदी, अंग्रेजी और अरबी भाषा का बहुत अच्‍छा जानकार था। एक वक्त था जब दुनिया के कई मुल्‍कों की पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। कहा जाता है कि इकबाल मेमन ने ड्रग्स के कारोबार से करोड़ों रुपए की दौलत जुटाई थी। इस दौलत का अधिकांश हिस्सा रीयल एस्टेट कारोबार में लगा था।

मई 1986 में पहली बार इकबाल मिर्ची ठाणे के एक फार्म हाउस से 9 करोड़ रुपये कीमत की 600 किलो हेरोइन के साथ रेवेन्यू इंटेलिजेंस के हत्थे चढ़ा था। हालांकि मिर्ची इस मामले से बच गया था। पहली बार लंदन में अप्रैल 1995 में इंटरपोल ने उसे गिरफ्तार किया था। ब्रिटेन में ठोस सबूतों के अभाव में उसे बरी कर दिया गया था। साल 2001 में उसे वहां रेजिडेंसी परमिट भी मिल गया था।

कहा जाता है कि 1990 के दशक में मिर्ची के पास मुंबई में 25 करोड़ से ज्यादा की संपत्तियां थीं। इनमें से ज्यादातर को पुलिस ने जब्त करा लिया था। 1998 में बॉम्बे हाई कोर्ट के आदेश पर मिर्ची के परिवार के नाम पर रजिस्टर्ड कई प्रॉपर्टी छुड़ा ली गई थीं। 1997 में मिर्ची ने सरेंडर के लिए एक बार और पहल की। इस बार भी उसने सुरक्षा मांगी, जो खारिज हो गई थी।

इकबाल मिर्ची का चर्चित फिल्म मुगल-ए-आजम से भी खास रिश्ता रहा है। दरअसल मुगल-ए-आजम के निर्माता-निर्देशक के आसिफ की बेटी और मिर्ची की दूसरी बीवी हिना कौसर से ही इकबाल मिर्ची ने शादी रचाई थी। एक साक्षात्कार में हिना ने बताया था कि इकबाल एक जिम्मेदार शौहर था, जो परिवार को काफी महत्व देता था। वह अकसर भारत की यादों के बारे में बातें करता था। इसके अलावा वह अपने शहर मुंबई से भी प्यार करता था।

Next Stories
1 बिना सरकारी मदद बनवा दी 100 किलोमीटर लंबी सड़क, कई अवार्ड से सम्मानित हो चुके IAS आर्मस्ट्रांग पाम की कहानी…
2 अवैध बार पर मारा छापा, जान से मारने की धमकी भी मिली; बहादुर IAS की कहानी
3 कैद से भाग गए थे 299 कैदी, …जब सबसे बड़े जेल ब्रेक कांड से हिल गया था देश
यह पढ़ा क्या?
X