scorecardresearch

दाऊद इब्राहिम का सहयोगी रियाज भाटी जबरन वसूली मामले में अरेस्ट, सलीम फ्रूट भी रडार पर

Riyaz Bhati: मुंबई पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन सेल (AEC) ने दाऊद इब्राहिम के करीबी रियाज भाटी को रंगदारी के एक मामले में गिरफ्तार किया है।

दाऊद इब्राहिम का सहयोगी रियाज भाटी जबरन वसूली मामले में अरेस्ट, सलीम फ्रूट भी रडार पर
रियाज भाटी को दाऊद इब्राहिम का करीबी माना जाता रहा है। (Photo – Express File/RiyazBhati)

मुंबई पुलिस बीते कई महीनों से भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के गुर्गों पर शिकंजा कस रही है। इसी कड़ी में मुंबई पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन सेल (AEC) ने दाऊद इब्राहिम के करीबी रियाज भाटी को अंधेरी से वर्सोवा पुलिस स्टेशन में दर्ज रंगदारी के एक मामले में गिरफ्तार किया है।

रंगदारी मामले में दर्ज हुई थी FIR

जिस मामले में मुंबई पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन सेल (AEC) ने रियाज भाटी के खिलाफ प्राथमिकी तब दर्ज की गई, जब एक कारोबारी ने दावा किया कि भाटी ने उसे धमकी दी और उससे 30 लाख रुपये और 7.5 लाख रुपये की कार की मांग की थी। इस FIR में दाऊद इब्राहिम के करीबी छोटा शकील और शकील के बहनोई सलीम कुरैशी उर्फ सलीम फ्रूट के नाम भी शामिल हैं।

सलीम फ्रूट भी रडार पर

इसी प्राथमिकी के आधार पर रियाज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, एंटी एक्सटॉर्शन सेल (एईसी) टीम सलीम फ्रूट की हिरासत की मांग करेगी, जो वर्तमान में न्यायिक हिरासत में है। सलीम फ्रूट को पिछले महीने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दाऊद इब्राहिम के खिलाफ एक मामले में गिरफ्तार किया था।

कौन है रियाज भाटी?

रियाज भाटी को मुंबई में दाऊद का करीबी सहयोगी माना जाता है। हालांकि, साल 2016 में खुद रियाज भाटी ने अपने लगे आरोपों के साथ दाऊद से किसी तरह के संबंधों से इनकार किया था। भाती पर रंगदारी वसूलने, जमीन हथियाने जैसे आरोप रहते हैं। पुलिस का रियाज भाटी के बारे में मानना है कि वह किसी शूटर के तौर पर नहीं बल्कि लोगों को डरा-धमकाकर रंगदारी वसूलने का काम करता है। इस सारे आरोपों के बीच यह दिलचस्प है कि रियाज भाटी का दखल रियल एस्टेट, खेल और राजनीति की दुनिया में हमेशा से रहा है। यहां तक कि रियाज भाटी को मुंबई के अंधेरी, ओशिवारा के पश्चिमी उपनगरों में उसे एक बिल्डर के रूप में जाना जाता है।

परमबीर सिंह मामले में आया था नाम

इससे पहले परमबीर सिंह मामले में रियाज भाटी का नाम आया था। मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ रंगदारी मांगने का मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में दाऊद इब्राहिम के सहयोगी रियाज भाटी के खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज की गई थी। मुंबई क्राइम ब्रांच ने फिरौती मामले में पूछताछ के लिए रियाज भाटी को तलब किया था लेकिन भाटी पूछताछ में शामिल हुए बिना ही फरार हो गया था।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 27-09-2022 at 06:37:04 pm
अपडेट