ताज़ा खबर
 

नाचने से मना किया तो डांसर सपना का सिर काट डाला, पुलिस ने यूं सुलझाया ब्लाइंड मर्डर केस

पुलिस के मुताबिक सुखविंदर सिंह और उसकी दोस्त पूजा ऑर्केस्ट्रा चलाते थे। करीब तीन साल पहले पूजा सपना को ऑर्केस्ट्रा में काम करने के लिए अपने साथ लाई थी। उस वक्त सपना की उम्र महज 16 साल थी।

ऑर्केस्ट्रा में नाचने वाली सपना को उसके दोस्तों ने ही मार डाला। प्रतीकात्मक तस्वीर।

16 अप्रैल, 2019 को बठिंडा पुलिस ने बठिंडा-सिरसा रेलवे लाइन के पास से एक लड़की की सिर कटी लाश बरामद की। लाश मिलने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गई। लाश का सिर नहीं था इसलिए पुलिस के सामने इस सिरकटी लाश के रहस्य को सुलझाना एक बड़ी चुनौती थी। लेकिन जल्दी ही पुलिस को कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर लड़की का सिर भी मिल गया। सिर मिलते ही पुलिस ने शव की शिनाख्त कर ली। यह लाश ऑर्केस्ट्रा डांसर सपना की थी। लेकिन सपना का यह हाल किसने किया? किन परिस्थितियों में उसकी मौत हुई? क्या है डांसर सपना की मौत का राज? कई सारे सवाल अब भी अनसुलझे थे। चूकि सपना का शव रेलवे स्टेशन के पास मिला था लिहाजा यह मामला जीआरपी के तहत आता था।

इस मामले को सुलझाने के लिए जीआरपी और जिला पुलिस की दो अलग-अलग टीमें बनाई गईं। संयुक्त ऑपरेशन का असर यह हुआ कि पुलिस लाश मिलने के 24 घंटे में ही इस ब्लाइंड मर्डर केस को सुलझाने के बिल्कुल करीब पहुंच गई और उनसे सुखविंदर सिंह सुक्खा, पूजा और मनप्रीत सिंह मीत नाम के तीन लोगों को दबोच लिया। पुलिस ने बताया कि इन तीनों आरोपियों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया। अब बारी थी इस मामले की तहे खुलने की। जब पुलिस ने इस हत्याकांड के बारे में विस्तार से बताया तो सभी हैरत में पड़ गए।

पुलिस के मुताबिक सुखविंदर सिंह और उसकी दोस्त पूजा ऑर्केस्ट्रा चलाते थे। करीब तीन साल पहले पूजा सपना को ऑर्केस्ट्रा में काम करने के लिए अपने साथ लाई थी। उस वक्त सपना की उम्र महज 16 साल थी। कुछ दिन तक तो सबकुछ ठीक रहा लेकिन उसके बाद सुखविंदर सिंह और पूजा, सपना को डांस प्रोग्राम में ले जाते थे लेकिन उसे उसके पैसे नहीं देते थे। सपना जब कभी उनसे पैसे मांगती थी तो यह दोनों उसे धमकी भी दिया करते थे। परेशान सपना ने एक दिन इनके कहने पर नाचने से इनकार कर दिया। इतना ही नहीं सपना ने यह काम छोड़ने की धमकी भी दी। सपना के नाचने से इनकार करने पर कमाई का जरिया बंद हो जाने की वजह से सुखविंदर ने सपना की हत्या करने की भयानक योजना बना डाली।

15 अप्रैल, 2019 को सुक्खा, मनप्रीत और सपना ने एक साथ जमकर शराब पी। सपना जब शराब के नशे में बेहोश हो गई तब सुक्खा और मनप्रीत उसे लेकर जोधपुर-रोमाणा ले गए। यहां उन्होंने तेज धार वाले हथियार से सपना का सिर धड़ से अलग कर दिया और सिर तथा धड़ को अलग-अलग जगहों पर फेंक दिया। मामले के खुलासे के बाद अब सपना के परिजन इस मामले में आरोपियों के लिए फांसी की मांग कर रहे हैं। बहरहाल पुलिस इस मामले में कानून के मुताबिक कार्रवाई कर रही है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App