ताज़ा खबर
 

PMO ऑफिस के अधिकारी बनकर करते थे फर्जीवाड़ा, दिल्ली पुलिस ने 2 लोगों को किया गिरफ्तार

प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारी होने का फर्जी दावा करने वाले दो लोगों को दिल्ली की एक अदालत ने पूछताछ के लिए पुलिस को सौंपने का आदेश दिया। उन्हें यहां के कनॉट प्लेस में बने आयोग के फ्लैगशिप स्टोर से गिरफ्तार किया गया था।

Author नई दिल्ली | July 13, 2019 11:04 AM
प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- जनसत्ता

देश की राजधानी दिल्ली में फर्जीवाड़े का एक नया मामला सामने आया है। यहां प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारी होने का फर्जी दावा करके खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग से ठेका हासिल करने की कोशिश करने वाले दो लोगों को दिल्ली की एक अदालत ने पूछताछ के लिए पुलिस को सौंपने का आदेश दिया।ड्यूटी मजिस्ट्रेट वसुंधरा चानूकर शिवम सिंह चौहान और कृष्णा कुमार गौड़ को दो दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश दिया। उन्हें यहां के कनॉट प्लेस में बने आयोग के फ्लैगशिप स्टोर से गिरफ्तार किया गया था।

आईएएस अधिकारी होने का झूठा दावा कियाः पुलिस के अनुसार चौहान का दावा था कि वह आईएएस अधिकारी है और प्रधानमंत्री कार्यालय में आयुक्त के पद पर नियुक्त है और उसने दो लोगों विवेक रावत और रॉबी रावत को आश्वासन दिया कि उन्हें उसके सहयोगी गौड़ की मदद से खादी इंडिया के प्रमुख वीके सक्सेना से ठेका मिल जाएगा। पुलिस ने बताया कि चौहान ने यह भी दावा किया कि गौड़ उसका दोस्त है और वह भी जल्द ही पीएमओ में नियुक्त होने वाला है।
National Hindi News 13 July 2019 LIVE Updates: दिन भर की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

खादी इंडिया के अधिकारियों ने पीएमओ से किया संपर्कःजानकारी के मुताबिक जब चौहान ठेका लेने के लिए स्टोर पहुंचा तो खादी इंडिया के अधिकारियों ने पीएमओ से संपर्क किया तो उन्होंने बताया गया कि इस नाम का कोई व्यक्ति वहां काम नहीं करता। पुलिस ने अदालत को बताया कि उन्हें पीएमओ से संबंधित कुछ लेटरहेड भी मिले हैं और दावा किया कि इस मामले में अभियुक्तों से आगे पूछताछ की आवश्यकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App