ताज़ा खबर
 

यूपी: 2 मस्जिदों में 19 विदेशी मौलवियों के मिलने से हड़कंप, रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने शुरू की जांच

Coronavirus, Covid-19 India Lockdown: विदेश से आने के बावजूद प्रशासन को सूचना ना देने के आपराध में पुलिस ने मस्जिद के काजी समेत कई अ्न्य लोगों पर केस दर्ज किया है।

पुलिस अभी जांच कर रही है कि यह लोग कितने लोगों के संपर्क में आए हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर

Coronavirus, Covid-19 India Lockdown: खतरनाक कोरोना वायरस के खौफ ने आम लोगों को हैरत में डाल रखा है। देश में लॉकडाउन है और सरकार का पूरा ध्यान इस बात पर है कि कोरोना संक्रमित लोगों को क्वारनटीन किया जाए। लेकिन इस बीच उत्तर प्रदेश से आई खबर ने सभी को चौंका दिया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि मेरठ में 19 विदेशी मौलवी मस्जिद के अंदर से मिले हैं। बताया जा रहा है कि यह सभी हाल ही में विदेश से लौटे हैं तथा बीते 17 मार्च से वो मस्जिद के अंदर ही रह रहे हैं।

‘दैनिक जागरण’ की रिपोर्ट के मुताबिक 29 मार्च, 2020 को यहां पुलिस को खूफिया तंत्र ने जानकारी दी कि मोहल्ला हीराला स्थित बिलाल मस्जिद में कई विदेशी ठहरे हुए हैं। सूचना मिलते ही पुलिस अलर्ट हो गई और दलबल के साथ यहां पहुंची। पुलिस ने मस्जिद के अंदर मौजूद 10 मौलवियों को पकड़ा। पता चला कि यह जमात 17 मार्च को सूडान और केन्या से आई थी तथा इसके बाद से वो यहां रह रहे थे। जांच टीम ने इनके पासपोर्ट और वीजा को तुरंत जब्त कर लिया। जांच टीम ने इन सभी को किसी भी हालत में अब मस्जिद से बाहर ना निकलने की सलाह दी है।

इधर सरधना की आजाद नगर स्थित मस्जिद में भी कुछ विदेशी नागरिकों के आने की सूचना भी पुलिस को थी। रविवार को ही पुलिस की एक अन्य टीम इस मस्जिद में पहुंची। पुलिस को पता चला कि 21 मार्च को यहां यहां 9 विदेशी मौलवी आए थे।

इसके बाद पुलिस ने तुरंत सभी विदेशी मौलवियों के बारे में अन्य सूचनाएं भी इकठ्ठा कर ली। विदेश से आने के बावजूद प्रशासन को सूचना ना देने के आपराध में पुलिस ने मस्जिद के काजी समेत कई अ्न्य लोगों पर केस दर्ज किया है। पुलिस ने आईपीसी की धारा 188, 269, 270 व 14 विदेशी अधिनियम तथा महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

पुलिस इन सभी विदेशी मौलवियों के कोरोना टेस्ट का भी इंतजाम कर रही है। साथ ही साथ यह भी पता किया जा रहा है कि यह सभी देश में क्यों आए थे और आने के बाद यह लोग किनके संपर्क में आए?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 प्रधानमंत्री राहत कोष के नाम फर्जी अकाउंट का खुलासा, ‘PMCARES@SBI’ और ‘PMCARE@SBI’ में कौन है असली? जान लीजिए
2 Coronavirus, Covid-19 India Lockdown: कोरोना से हुई मौत तो लोगों ने कब्रिस्तान में दफनाने से रोका, संक्रमण फैलने के डर से थे आशंकित
3 Coronavirus, Covid-19 India Lockdown: AIIMS की महिला चिकित्सक का आरोप, घर खाली नहीं करने पर दी रेप की धमकी; केस दर्ज