ताज़ा खबर
 

‘LNJP अस्पताल के बाहर COVID-19 संक्रमित पिता को लेकर इंतजार करती रही, नहीं किया भर्ती तो हो गई मौत; बेटी ने ट्वीट कर सुनाई दास्तान

Coronavirus, (Covid-19): आपको बता दें कि दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल को कोरोना वायरस हॉस्पिटल घोषित किया गया है। यहां पर कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए 1,000 बेड उपलब्ध हैं।

crime, crime newsLNJP अस्पताल प्रबंधन की तरफ से इस पूरे मामले पर सफाई सामने आई है। फाइल फोटो

Coronavirus, (Covid-19): देश भर में कोरोना वायरस का खौफ पसरा हुआ है। इस बीच दिल्ली के मशहूर Lok Nayak Jai Prakash Narayan (LNJP) हॉस्पिटल पर बड़ी लापरवाही का आरोप लगा है। दरअसल अमरप्रीत नाम की एक लड़की ने ट्वीट कर बताया है कि किस तरह वो कोविड-19 संक्रमित अपने पिता को लेकर अस्पताल के बाहर खड़ी रह गईं लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने उन्हें भर्ती करने से इनकार कर दिया और फिर उनकी मौत हो गई।

अमरप्रीत ने जो पहला ट्वीट किया उसमें बताया कि ‘मेरे पिता को तेज बुखार है। हमें उन्हें अस्पताल में शिफ्ट करने की जरुरत है। मैं LNJP अस्पताल के बाहर खड़ी हूं लेकिन अस्पताल में उन्हें भर्ती नहीं किया जा रहा है। उन्हें कोरोना है, तेज बुखार और सांस लेने में तकलीफ है। वो बिना मदद के नहीं बच पाएंगे..कृप्या कर मदद करें।’ यह ट्वीट अमरप्रीत ने गुरुवार (04-06-2020) की सुबह करीब 9 बजे किया। इसके करीब एक घंटे के बाद उन्होंने दोबारा ट्वीट किया और लिखा कि ‘वो अब जिंदा नहीं हैं। सरकार हमारे सामने फेल हो गई।’

बेटी की इस ट्वीट को देखकर ट्विटर पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी। कई लोगों ने सरकार और अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा कि सरकार सही समय पर एक्शन लेने में विफल रही।

आपको बता दें कि दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल को कोरोना वायरस हॉस्पिटल घोषित किया गया है। यहां पर कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए 1,000 बेड उपलब्ध हैं। अस्पताल के बाहर खड़े एक मरीज की मौत के बाद अस्पताल प्रबंधन की तरफ से सफाई सामने आई है।

अस्पताल प्रबंधन ने कहा है कि मरीज को भर्ती करने से इनकार नहीं किया गया था बल्कि उन्हें गंगा राम अस्पताल की तरफ से होम क्वारन्टीन रहने की सलाह दी गई थी।

एलएनजेपी अस्पताल के मुताबिक 1 जून को उनका कोरोना टेस्ट पॉजीटिव आया था। अस्पताल प्रबंधन की तरफ से यह भी कहा गया है कि ग्रेटर कैलाश से मरीज को काफी गंभीर हालत में लाया गया था औऱ वो अस्पताल के Casualty Section में थे जहां उन्हें मृत घोषित किया गया था।

इस लड़की ने 2 जून को भी एक ट्वीट किया था और लिखा था कि ‘मेरे पिता कोरोना पॉजीटिव हैं। कोई भी हेल्पलाइन नंबर जवाब नहीं दे रहा है। तुरंत मदद चाहिए।’ लड़की ने अपने इस ट्वीट में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को भी टैग किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना के बाद दिल्‍ली दंगे से जुुुड़़ा़ निजामुद्दीन मरकज, तबलीगी जमात का नाम, पुलिस कर रही जांच
2 रेप का आरोप लगने के बाद बढ़ी IAS जनक प्रसाद की मुश्किलें, जांच में पीड़िता को गंदे मैसेज भेजने के मिले सबूत
3 Coronavirus, (COVID-19): पत्नी से तलाक के लिए रची गंदी साजिश! Facebook पर मोबाइल नंबर डाल पति ने किया बदनाम