ताज़ा खबर
 

दिल्ली: कोरोना फैलाने की साजिश! क्वारन्टीन सेंटर में मिल रहे बोतलों में रखे पेशाब, मचा हड़कंप

Coronavirus, Covid 19, India Lockdown: दावा किया जा रहा है कि यह बोतलें सेंटर में बने फ्लैट F109, F110, F11 था F112 से फेंकी गई हैं। फिलहाल अब इस मामले में पुलिस जांच कर रही है।

क्वारन्टीन सेंटर में पेशाब की बोतलें मिलने से हड़कंप मच गया है। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

Coronavirus, Covid 19, India Lockdown: पूरा देश इस वक्त कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ रहा है। इस बीच दिल्ली के द्वारका स्थित क्वारन्टीन सेंटर के अंदर पेशाब से भरी बोतलें मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। द्वारका नॉर्थ पुलिस स्टेशन की पुलिस ने इस मामले में कोरोना वायरस फैलाने की साजिश से इनकार नहीं किया है। पुलिस ने इस मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 269, 279 के तहत केस दर्ज किया है।

Delhi Urban Shelter Improvement Board की तरफ से थाने में दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया है कि कुछ लोगों ने जानबूझ कर बोतलों में यूरीन भरकर क्वारन्टीन फैसलिटी सेंटर में फेंक दिया। पेशाब से भरे बोतल फेंकने के पीछे कोरोना वायरस के संक्रमण को बढ़ाने की साजिश हो सकती है।

‘इंडिया टीवी’ की रिपोर्ट के मुताबिक क्वारन्टीन सेंटर की खिड़कियों से पेशाब से भरी बोतलें फेंकी गई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि ऐसी हरकत जमातियों की तरफ से इसलिए किया गया क्योंकि वो डॉक्टर और नर्स को भी कोरोना से ग्रसित कराना चाहते हैं। कहा जा रहा है कि इस सेंटर में क्वारन्टीन के लिए रखे गए कुछ जमातियों ने सेंटर की छत से यह बोतलें फेंकी हैं।

इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है जिसमें दिख रहा है कि परिसर के अंदर कुल 4 बोतलें फेंकी गई हैं। इनमें से 2 बोतल खाली है तथा 2 बोतल भरी हुई है। दावा किया जा रहा है कि यह बोतलें सेंटर में बने फ्लैट F109, F110, F11 था F112 से फेंकी गई हैं। फिलहाल अब इस मामले में पुलिस जांच कर रही है।

आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली के ही नरेला स्थित क्वारन्टीन सेंटर से भी बेहद ही चौंकाने वाली खबर आई थी। सेंटर के प्रबंधकों ने 2 जमातियों पर एफआईआर दर्ज कराया है। एफआईआर में कहा गया है कि यहां कुछ लोग जानबूझ कर दरवाजे पर पॉटी कर रहे हैं ताकि सफाईकर्मियों और नर्सों को परेशान किया जा सके।

जिस वार्ड के बाहर पॉटी किया गया था उसमें मोहम्मद फहाद और अदनान जहीर रहते हैं। सेंटर के प्रबंधकों का कहना है कि यह दोनों डॉक्टरों की सलाह भी नहीं मान रहे हैं। जिससे कोरोना वायरस फैलने का खतरा बढ़ गया है तथा अन्य लोगों की जिंदगी भी खतरे में पड़ गई है। यह दोनों जमाती दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए मरकज में शामिल भी हुए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी: BJP सांसद पर तहसीलदार को घर में घुस कर पीटने का लगा आरोप, केस दर्ज
2 तब्लीगी जमात में शामिल जमातियों पर दिया था विवादित बयान, अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन गिरफ्तार
3 पुलिस को पीटने का आरोप शाहिद कबूतर और मोहसिन कचौड़ी पर, CM ने कहा – कबूतर हो या कचौड़ी किसी को नहीं बख्शा जाएगा