ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश: गर्लफ्रेंड के शौक पूरे करने के लिए कॉन्स्टेबल का बेटा बना चोर, चलाता था पूरा गैंग

पीएसी कॉन्स्टेबल का बेटा गर्लफ्रेंड के शौक पूरे करने के लिए,चोरों का गैंग चलाता था। वह बंद मकानों की रेकी कर वारदात अंजाम देता था।

suratप्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिला में तैनात पीएसी के हेड कॉन्स्टेबल का बेटा चोरों का गैंग चला रहा था। बंद पड़े मकानों की रेकी कर रात के समय चोरी करता था। चोरी की वारदात को अंजाम देने में क्वालिस गाड़ी का इस्तेमाल करता था। कृष्णा नगर पुलिस ने गैंग के सरगना समेत छह बदमाशों को गिरफ्तार कर 10 चोरी की घटनाओं का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने उनके पास से क्वालिस गाड़ी समेत चोरी के रुपये, कपड़े , जेवर और अन्य सामान बरामद की है।

पुलिस ने गिरफ्तार किया चोरों का मास्टरमाइंड: एएसपी पूर्वी सुरेश चंद्र रावत ने बताया कि इंस्पेक्टर कृष्णानगर प्रदीप कुमार सिंह ने मंगलवार रात फोर्स के साथ सीएमएस स्कूल के पास चेकिंग कर रहे थे। इसी बीच इंस्पेक्टर ने क्वालिस (यूपी 32 एआर 0037) को रोका। पूछताछ के दौरान पुलिस ने बदमाशों की पहचान कर गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार होने वालों में बिहार निवासी विवेकानन्द, कुशीनगर निवासी अविनाश शुक्ला, कानपुर निवसी रामेश्वर, पीजीआई के हैवतमऊ मवैया निवासी रोहीत रावत, छत्तीसगढ़ से रायपुर निवासी कृष्णा जायसवाल और अमौसी निवासी जय सिंह हैं।

Mumbai Rains, Weather Forecast Today Live Updates: मौसम से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

चोरों का मास्टरमाइंड हेड कॉन्स्टेबल का बेटा: पुलिस के मुताबिक, अविनाश शुक्ला पहले भी चोरी के मामले में जेल जा चुका है। 24 अप्रैल को ही वह जमानत पर रिहा होकर बाहर आया था। इसके बाद फिर गैंग बनाकर चोरी की वारदात को अंजाम दे रहा था। खबर के मुताबिक, अविनाश के पिता दीनदयाल शुक्ला सीतापुर पीएसी में हेड कॉन्स्टेबल हैं।

National Hindi News, 19 September 2019 LIVE Updates: देश की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

चोरी की 10 वारदात दे चुके अंजाम: पुलिस के अनुसार, आरोपी क्वालिस गाड़ी से घूमकर पहले बंद मकानों की रेकी करते थे। फिर रात को चोरी की घटना को अंजाम देते थे। जिस गाड़ी का चोरी करने में इस्तेमाल करते थे। वह गाड़ी आरोपी कृष्णा जायसवाल की है। 16 सितंबर की रात इन लोगों ने आशियाना के सेक्टर- एच में व्यवसायी अजय श्रीवास्तव के मकान में चोरी की थी। इन आरोपियों ने कृष्णानगर में छह व आशियाना में चोरी की 4 घटनाओं का अंजाम दिया था। पुलिस के पूछताछ के दौरान आरोपियों ने इस बात का खुलासा किया है।

गौरतलब है कि अविनाश शुक्ला पर 12 व रोहीत रावत पर विभिन्न थानों में कुल 18 मामले दर्ज हैं। मुख्य आरोपी गर्लफ्रेड के शौक पूरे करने व अय्याशी करने के लिए चोरी करता था।

Next Stories
1 तेलुगु सुपरस्टार नागार्जुन के फार्महाउस से मिली लाश, फॉरेंसिक टीम के साथ पहुंच पुलिस ने की जांच
2 मध्य प्रदेश: फ्रेंडशिप करने से इनकार कर दिया, कॉलेज में घुस सिरफिरे आशिक ने छात्रा का गला रेता
3 नेताओं व सरकारी अफसरों को Honey Trap में फंसाता था यह गैंग, पुलिस ने भंडाफोड़ कर 6 को दबोचा
यह पढ़ा क्या?
X