ताज़ा खबर
 

नोएडा: CISF भर्ती की लिखित परीक्षा किसी और ने दी, शारीरिक परीक्षा देने आए ‘मुन्ना भाई’, दबोचे गए

ग्रेटर नोएडा के पुलिस उपाधीक्षक राजीव कुमार सिंह ने बताया कि थाना ईकोटेक क्षेत्र स्थित सीआईएसएफ कैंप में कॉन्स्टेबल के पद पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा के बाद शारीरिक परीक्षा चल रही है।

Author नोएडा | Updated: August 22, 2019 2:07 PM
ओजी: CISF भर्ती: लिखित परीक्षा किसी और ने दी, फिजिकल टेस्ट देने आए ‘मुन्ना भाई file photo pic.. credit- indian express

उत्तर प्रदेश के नोएडा में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) भर्ती चल रही है। बताया जा रहा है कि इसके लिए लिखित परीक्षा दे चुके 4 अभ्यर्थियों की जगह गुरुवार (22 अगस्त) को सीआईएसएफ के कैंप में शारीरिक परीक्षा देने चार अन्य व्यक्ति पहुंच गए। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि इससे पहले शनिवार (17 अगस्त) को ऐसे ही 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

ईकोटेक में हो रही भर्ती: ग्रेटर नोएडा के पुलिस उपाधीक्षक राजीव कुमार सिंह ने बताया कि थाना ईकोटेक क्षेत्र स्थित सीआईएसएफ कैंप में कॉन्स्टेबल के पद पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा के बाद शारीरिक परीक्षा चल रही है। इसके लिए दूर-दूर से अभ्यर्थी आ रहे हैं।

National Hindi News, 22 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें 

ऐसे पकड़े गए मुन्ना भाई: उन्होंने बताया कि शारीरिक परीक्षा के लिए आए पंकज, राज कुमार, सचिन, कपिल के हस्ताक्षर और बायोमीट्रिक आंकड़े उनके ‘मूल हस्ताक्षरों और बायोमीट्रिक आंकड़ों से’ मेल नहीं खा रहे थे। इसके बाद चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में भर्ती बोर्ड के पीठासीन अधिकारी कमांडेंट निर्विकार सिंह ने थाना ईकोटेक-3 में चारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Raj Thackeray IE&FS Case Live News Updates: ईडी दफ्तर में राज ठाकरे से हो रही पूछताछ, मुंबई के कई हिस्सों में बंद जैसा माहौल

शनिवार को भी पकड़े गए थे 5 लोग: पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि इससे पहले शनिवार को भी अंकित कुमार, सौरव मोदी, रोबिन सिंह सिरोही और जुबेर त्यागी को पुलिस ने फर्जी तरीके से सीआईएसएफ में भर्ती होने का प्रयास करने के मामले में गिरफ्तार किया था। उन्होंने बताया कि बायोमीट्रिक और इलेक्ट्रॉनिक आंकड़ों की जांच में पाया गया कि लिखित परीक्षा दूसरों ने दी थी।

फर्जीवाड़े के खुलासे के लिए होगी जांच: पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, इस पूरे मामले की जांच सक्षम एजेंसियों से कराने की मांग करते हुए प्रशासन को एक पत्र लिखा गया है। उन्हें उम्मीद है कि जांच के बाद इस फर्जीवाड़े का खुलासा हो जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 किन्नरों की वेबसाइट पर दोस्ती कर काट देता था प्राइवेट पार्ट, धरा गया
2 Olx, Quikr पर हो रहे सबसे बड़े फ्रॉड का खुलासा, डील के बहाने लोगों को यूं लग रहा चूना
3 बेवफाई का शक था, 25 साल के युवक ने 30 साल की लिव इन पार्टनर को पीट-पीट कर मार डाला