ताज़ा खबर
 

SUV का काफिला लेकर आए चीनी सैनिक, भारतीय सैनिकों के साथ झड़प की रात क्या हुआ? पढ़ें

चीन की इस हरकत का अंदेशा पहले से था लिहाजा रात के वक्त सेना और भी ज्यादा मुस्तैद थी। बताया जा रहा है कि रात करीब 11 बजे करीब 200 चीनी सैनिक एसयूवी गाड़ी के काफिले में आए।

INDIA, CHINA, LACभारत और चीन के बीच स्थिति को सामान्य करने के लिए कमांडर स्तर पर चर्चा हो रही है। (फाइल फोटो)

SUV का काफिला लेकर चीनी सैनिक भारतीय सीमा में घुसपैठ करने के इरादे से आए थे। लेकिन पहले से ही मुस्तैद हमारे जवान सीमा पर अड़ गए और चीन अपनी मंशा में नाकाम हो गया। सीमा पर भारत-चीन के बीच तनाव के हालात पिछले कई महीनों से बने हुए हैं। इस बीच पूर्वी लद्दाख में चीनी सैनिकों ने एक बार पहले से बनाए गए यथास्थिति को बदलने और भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की है। 29-30 अगस्त की रात चीनी सैनिकों की इस कोशिश का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है।

सरकार की तरफ से बताया गया है कि पूर्वी लद्दाख के दक्षिणी छोर के पास चीन की घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम किया गया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में इस रात हुई घटना के बारे में बताया जा रहा है कि चीनी सैनिक SUV का काफिला लेकर भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। हालांकि भारतीय सेना को चीन की इस हरकत का अंदेशा पहले से था लिहाजा रात के वक्त सेना और भी ज्यादा मुस्तैद थी। बताया जा रहा है कि रात करीब 11 बजे करीब 200 चीनी सैनिक एसयूवी गाड़ी के काफिले में आए।

ह सैनिक पैंगॉन्ग लेक के पास फिंगर एरिया की तरफ से सीमा में घुसपैठ करना चाहते थे। लेकिन भारतीय जवान सीमा के पास डट कर खड़े हो गए। इस दौरान दोनों देशों के सैनिकों के बीच धक्का-मुक्की शुरू हो गई। रात के वक्त भारतीय वीर एक कदम भी पीछे हटने के लिए तैयार नहीं थे, लिहाजा चीन को आखिरकार पीछे हटना पड़ा। अभी तक की जानकारी के मुताबिक इस धक्का-मुक्की औऱ तनाव के माहौल में किसी भी भारतीय जवान को चोट नहीं आई है।

इसपर भारतीय सेना की तरफ से साफ कहा गया है कि चीनी सैनिकों ने 29 और 30 अगस्त की दरमियानी रात सैन्य और राजनयिक बातचीत के जरिये बनी पिछली आम सहमति का उल्लंघन किया है। भारतीय सेना बातचीत के माध्यम से शांति और स्थिरता बनाए रखने को प्रतिबद्ध है, लेकिन साथ ही देश की क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करने के लिए भी उतनी ही प्रतिबद्ध है। यह कहा जा रहा है कि ऐसा पहला मौका है जब चीन ने दक्षिणी सीमा से घुसपैठ की कोशिश की है।

इधर चीनी घुसपैठ पर अब चीन की सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स में चीन के विदेश मंत्री का बयान आया है। भारत-चीन के बीच झड़प पर चीन के विदेश मंत्री ने कहा है कि हमने तो एलएसी (लाइन ऑफ एक्शन कंट्रोल) पार ही नहीं की है। चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है कि चीन की सेना वास्तविक नियंत्रण रेखा का सख़्ती से पालन करती है और चीन की सेना ने कभी भी इस रेखा को पार नहीं किया है। दोनों देशों की सेना इस मु्द्दे पर संपर्क में हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अवमानना केस में दोषी प्रशांत भूषण पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 1 रुपए का जुर्माना, नहीं देने पर 3 महीने की होगी सजा
2 आगरा: घर में जली हुई 3 लाशें, पति-पत्नी के हाथ पैर बंधे, बेटे के गले में फंदा; मची सनसनी
3 पूर्वी लद्दाख में भारत-चीनी सैनिकों में फिर हुई झड़प, पैंगॉन्ग झील के दक्षिणी छोर पर तनाव
यह पढ़ा क्या?
X