ताज़ा खबर
 

Chhattisgarh: कांकेर में बड़ा नक्सली हमला, विस्फोट कर उड़ा दिया तेल टैंकर; 3 की मौत

Chhattisgarh Naxal Attack, Kanker: पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तुमापाल और कोसरोंडा गांव के मध्य रावघाट रेलवे लाइन परियोजना का कार्य चल रहा है। यहां निर्माण कार्य में लगे वाहनों को डीजल आपूर्ति के लिए डीजल टैंकर भेजा गया था। जिसे नक्सलियों ने उड़ा दिया है।

Author कांकेर | September 24, 2019 6:34 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Chhattisgarh Naxal Attack, Kanker: छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में नक्सलियों ने मंगलवार को विस्फोट कर एक तेल टैंकर को उड़ा दिया। धमाके में तीन लोगों की मौत हो गई। कांकेर जिला नक्सल प्रभावित है। पुलिस अधिकारियों ने भाषा को फोन पर बताया कि जिले के ताड़ोकी थाना क्षेत्र के कोसरोंडा और तुमापाल गांव के मध्य, पतकालबेड़ा गांव के करीब आज नक्सलियों ने एक तेल टैंकर को विस्फोट से उड़ा दिया। विस्फोट के कारण टैंकर चालक राकेश कोड़ोपी (24 वर्ष), चालक दुनेश्वर सिंह (24 वर्ष) और हेल्पर अजय कुमार सलाम (23 वर्ष) की मौत हो गई।

घटना के बाद अतिरिक्त बल तैनात: अधिकारियों ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस दल भेज गया तथा नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गई। उन्होंने बताया कि राकेश कोड़ोपी छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के अंतर्गत विश्रामपुरी थाना क्षेत्र का निवासी था। वहीं दुनेश्वर सिंह मध्यप्रदेश के मंडला जिले का तथा अजय कुमार सलाम कांकेर जिले के रावघाट थाना क्षेत्र का निवासी था।

रेलवे लाईन का निर्माण हो रहा है:  पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तुमापाल और कोसरोंडा गांव के मध्य रावघाट रेलवे लाइन परियोजना का कार्य चल रहा है। यहां निर्माण कार्य में लगे वाहनों को डीजल आपूर्ति के लिए तुमापाल स्थित सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) कैंप से के.आर इंफ्रास्ट्रक्चर कंस्ट्रक्शन कंपनी का डीजल टैंकर (पिकअप) रवाना हुआ था। आज सुबह लगभग 10 बजे जब टैंकर पतकालबेड़ा गांव के करीब पहुंचा तब नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर टैंकर को उड़ा दिया।

National Hindi News, 24 September 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 घटना स्थल पर अधिकारी पहुंचकर जांच की: अधिकारियों ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस दल भेजा गया। जिले के वरिष्ठ अधिकारी भी घटनास्थल पहुंच गए। इस संबंध में अधिक जानकारी ली जा रही है। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र से लौह अयस्क की आपूर्ति और क्षेत्र के निवासियों को रेल सुविधा देने के लिए दल्लीराजहरा, रावघाट, जगदलपुर रेल परियोजना शुरू की गई है। इसके तहत 235 किलोमीटर रेलवे ट्रैक का निर्माण होना है।

42 किमो तक गाड़ियों का चालन शुरु: परियोजना के पहले चरण में दल्लीराजहरा से रावघाट के लिए 95 किलोमीटर रेलवे ट्रैक का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। इस मार्ग पर दल्लीराजहरा से लगभग 42 किलोमीटर दूर केवटी गांव तक यात्री गाड़ियों का परिचालन भी शुरू हो गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तराखंड: जहरीली शराब से 6 लोगों की मौत मामले में BJP नेता गिरफ्तार, सप्लाई का है आरोप, पार्टी ने किया निष्कासित
2 Haryana: शराबी पति ने पत्नी को दरांते से काट डाला, बचाने आया भाई तो उसे भी कर दिया लहूलुहान
3 वायुसेना भर्ती का पेपर सॉल्व करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, खेतों में बैठकर हैक करते थे प्रतिभागियों के कम्प्यूटर
IPL 2020
X