बाप रे इतना गुस्सा! गांव वालों को काटने से नाराज दो शराबियों ने जहरीले सांप को ही चबा डाला

छत्तीसगढ़ के कोरबा में दो शराबियों ने एक जहरीले सांप को ही चबा डाला। सांप की प्रजाति करैत थी और गांव वालों के काटने से नाराज शाराबियों ने इस काम को अंजाम दिया।

कोरबा में दो शराबियों ने सांप को ही चबा डाला (फाइल फोटो)

छत्तीसगढ़ से एक बड़ी ही हैरान करने वाली खबर आई है। दो शराबियों ने जहरीले सांपों में से एक करैत प्रजाति के सांप को ही खा लिया। इन्हें ये सांप गली में अधजला मिला था।

छत्तीसगढ़ का कोरबा में दो युवक शराब के नशे में धुत्त अपने घर जा रहे थे। तभी उनकी नजर गली में पड़े एक सांप पर पड़ी, जो मरा हुआ था और अधजला भी था। गुस्से में दोनों युवकों ने उस सांप को उठाया और खाने लगे। एक ने सांप का मुंह खाया तो दूसरे ने पूंछ। सांप करैत प्रजाति का था, जो दुनिया भर में सबसे ज्यादा जहरीले सापों में से एक माना जाता है।

दरअसल सांप, उसी गांव में रहने वाले एक शख्स के घर निकला था। शख्स ने सांप को देखा तो उसे मार दिया और जलाकर गली में फेंक दिया। तभी नशे में धुत्त ये दोनों शराबी वहां पहुंच गए और ये सांप को खाने लगे। सांप को खाने के बाद इनकी हालत बिगड़ने लगी। इन्हें उल्टी होने लगा। बेहोशी की हालत में परिवार वालों ने आनन -फानन में इन्हें कोरबा मेडिकल अस्पताल ले गए। जहां इनका इलाज चल रहा है।

इलाज के बाद अब इन दोनों हालत ठीक बताई जा रही है। शराबियों से जब सांप के खाने की वजह पूछी गई तो इन्होंने बड़ा ही अजीब जवाब दिया। शराबियों का कहना था कि उनके गांव में सांप का बड़ा आतंक है, सांपों के काटने से कई लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इसलिए जब सांप उन्हें गली में मिला तो उसे वो गुस्से में चबा गए।

मामले की जानकारी जब पुलिस को मिली तो वो तहकीकात करने युवकों से मिलने पहुंची। पुलिस ने घटना स्थल से सांप के बचे हुए अवशेष को जब्त कर लिया, उसी की जांच से ये कंफर्म हुआ कि ये सांप करैत प्रजाति का है।

बता दें कि करैत सांप बहुत जहरीला माना जाता है, कहा जाता है कि अगर करैत ने काट लिया तो बचना मुश्किल है। यह सांप भारत समेत दक्षिण एशिया के कई देशों में पाया जाता है। बरसात के दिनों में सांप अकसर बिल से वापस निकल आता है और गांव में घुस जात है। ये सांप ज्यादातर समय रात में निकलता है और सोए हुए व्यक्ति को काट लेता है। इसके काटने से हल्का सा दर्द होता, जिससे व्यक्ति को इसके काटने का पता भी नहीं चल पाता है, जिसकी वजह से हर साल कई लोग अपनी जान गंवा बैठते हैं।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट